तटीय क्षेत्र में नवीकरणीय ऊर्जा में भारी निवेश की उम्मीद: बोम्मई

पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि ऊर्जा के उत्पादन के लिए बुनियादी ढांचा मुहैया कराने की तैयारी की जा रही है

तटीय क्षेत्र में नवीकरणीय ऊर्जा में भारी निवेश की उम्मीद: बोम्मई

उन्होंने कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा उत्पादन के क्षेत्र में तटीय क्षेत्रों की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है

मेंगलूरु/दक्षिण भारत। मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि हाल में संपन्न वैश्विक निवेशकों की बैठक में राज्य नवीकरणीय ऊर्जा, हाइड्रोजन ऊर्जा और समुद्री जल से अमोनिया के उत्पादन में लगभग 2 लाख करोड़ रुपए के निवेश की उम्मीद कर रहा है। इसके साथ ही तटीय जिलों में भारी निवेश की उम्मीद है।

यहां बाजपे अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि ऊर्जा के उत्पादन के लिए बुनियादी ढांचा मुहैया कराने की तैयारी की जा रही है और राज्य उच्च स्तरीय समिति ने तीन अक्षय ऊर्जा कंपनियों को मंजूरी दे दी है। उनके अगले साल मार्च-अप्रैल तक काम शुरू करने की उम्मीद है।

उन्होंने कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा उत्पादन के क्षेत्र में तटीय क्षेत्रों की भूमिका अत्यंत महत्वपूर्ण है। खाड़ी और मेंगलूरु में दो महत्वपूर्ण परियोजनाएं, हाइड्रोजन और अमोनिया उत्पादन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आ रही हैं। मेंगलूरु और उसके आसपास समुद्र के पानी से महत्वपूर्ण अमोनिया निर्माण इकाई स्थापित की जाएगी। अक्षय ऊर्जा इकाई के लिए आवश्यक ऊर्जा सौर, पवनचक्की जैसे ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोतों से ली जाएगी।

उन्होंने कहा कि यह टोटल ग्रीन प्रोजेक्ट होगा। इन परियोजनाओं से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से बड़ी संख्या में रोजगार सृजित होंगे, जिससे इस क्षेत्र के युवाओं के लिए अवसरों के द्वार खुलेंगे।

मेंगलूरु-बेंगलूरु राजमार्ग की मरम्मत प्राथमिकता पर

बोम्मई ने कहा कि लगातार बारिश से मेंगलूरु-बेंगलूरु राजमार्ग के मरम्मत कार्य में देरी हुई है और वे केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मिलने के लिए दिल्ली जाएंगे। इससे पहले सभी राष्ट्रीय राजमार्गों को लेकर बैठक बुलाई जाएगी।

मेंगलूरु-बेंगलूरु हाईवे जैसे टनल रूट और व्हाइट टॉपिंग के मरम्मत कार्य को प्राथमिकता के आधार पर लिया जाएगा। राजमार्ग को अल्पकालिक कार्यों के द्वारा प्रयोग करने योग्य बनाया जाएगा और लंबी अवधि के कार्यों के हिस्से के रूप में एक सुरंग मार्ग का निर्माण किया जाएगा।

निर्वाचक सूची का पुनरीक्षण

उन्होंने कहा कि निर्वाचक सूची का संशोधन हर साल और चुनाव के समय भी होता है। यह भारत निर्वाचन आयोग की सतत प्रक्रिया है। बेंगलूरु पुलिस ने मतदाता सूची के पुनरीक्षण से संबंधित जांच तेज कर दी है और कुछ लोगों को गिरफ्तार किया है। आगामी कार्रवाई तेजी से की जाएगी।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News