अवसाद पर दीपिका ने कहा

अवसाद पर दीपिका ने कहा

नई दिल्ली। अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने गुरुवार को कहा कि बीते समय में अवसाद के साथ उनकी जंग का अनुभव उनके लिए इतना खराब रहा है कि उन्हें यह डर सताता रहता है कि वह फिर इसकी चपेट में ना आ जाएं। यहां भारत आर्थिक सम्मेलन में मानसिक रोग से जु़डी धारणा के बारे में बातचीत में ३१ वर्षीय अभिनेत्री ने यह कहा। दीपिका ने कहा, मुझे नहीं लगता कि मैं यह कह सकती हूं कि मैं इससे पूरी तरह उबर चुकी हूं। मेरे दिलोदिमाग में यह डर हमेशा बना रहता है कि मैं फिर से इसकी चपेट में आ जाऊंगी क्योंकि मेरे लिए यह अनुभव बहुत ही खराब रहा है। उनसे पूछा गया कि अपने अवसाद के बारे में खुलकर बोलने से क्या उन्हें कोई नुकसान उठाना प़डा? इस पर दीपिका ने कहा कि इस बारे में वह निश्चित तौर पर तो कुछ नहीं कह सकती लेकिन हो सकता है कि कुछ निर्माता इस वजह से उनके पास ना आए हों। दीपिका ने देशभर के स्कूलों के पाठ्यक्रम में मानसिक स्वास्थ्य विषय को शामिल करने की वकालत करते हुए कहा कि इस तरह इससे जु़डी भ्रामक धारणा को दूर किया जा सकेगा।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List