पत्नी की यादों को सहेजने के लिए हूबहू सिलिकॉन वैक्स प्रतिमा बनवाकर किया गृह-प्रवेश

पत्नी की यादों को सहेजने के लिए हूबहू सिलिकॉन वैक्स प्रतिमा बनवाकर किया गृह-प्रवेश

पत्नी की यादों को सहेजने के लिए हूबहू सिलिकॉन वैक्स प्रतिमा बनवाकर किया गृह-प्रवेश

पत्नी की प्रतिमा के साथ श्रीनिवास गुप्ता

कोप्पल/दक्षिण भारत। लोग अपने प्रियजन की यादों को सहेजने के लिए क्या नहीं करते! यहां एक उद्योगपति ने अपनी दिवंगत पत्नी की याद में सिलिकॉन वैक्स प्रतिमा बनवाई, जो मुस्कुराते हुए नजर आ रही है।

उद्योगपति श्रीनिवास गुप्ता ने कोप्पल में नया घर बनवाया था। उन्होंने पत्नी माधवी देवी की प्रतिमा के साथ गृह-प्रवेश किया। माधवी का जुलाई 2017 में एक कार दुर्घटना में देहांंत हो गया था।

प्रतिमा की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। यूजर्स ने इस पर टिप्पणी करते हुए कहा कि इस परिवार के लिए यह बहुत ही भावुक लम्हा है। वहीं, कई यूजर्स ने प्रतिमा के निर्माता की तारीफ की।

पत्नी की यादों को सहेजने के लिए हूबहू सिलिकॉन वैक्स प्रतिमा बनवाकर किया गृह-प्रवेश
प्रतिमा के साथ तस्वीरें लेते हुए परिजन

कार्यक्रम में शिरकत करने वाले मेहमानों ने जब माधवी देवी की मुस्कुराते हुए प्रतिमा देखी तो वे हैरान रह गए। जब उन्हें पता चला कि यह सिलिकॉन वैक्स प्रतिमा है तो वे भी कलाकार की तारीफ किए बिना नहीं रहे।

प्रतिमा के बारे में श्रीनिवास गुप्ता ने बताया, ‘मेरी पत्नी को अपने घर पर फिर से पा लेना एक शानदार अहसास है, क्योंकि यह उसके सपनों का घर था। बेंगलूरु के एक कलाकार श्रीधर मूर्ति ने मेरी पत्नी की प्रतिमा तैयार करने में एक साल का समय लिया। प्रतिमा को स्थायित्व देने के लिए सिलिकॉन का उपयोग किया गया।’

पत्नी की यादों को सहेजने के लिए हूबहू सिलिकॉन वैक्स प्रतिमा बनवाकर किया गृह-प्रवेश
प्रतिमा को देखकर मेहमान भी चकित रह गए।

प्रतिमा को गुप्ता के घर के अंदर वास्तुकार रंगनानवर की मदद से बनाया गया। गुप्ता कहते हैं, ‘हमारे कलाकार ने सुझाव दिया कि मोम की प्रतिमा के बजाय एक सिलिकॉन प्रतिमा हो, क्योंकि हम कोप्पल में रहते हैं जो एक गर्म स्थान है और मोम को अपने स्वरूप में बनाए रखने के लिए हर समय एसी को चालू नहीं रखा जा सकता। इसलिए सुझाव के अनुसार, हमने सिलिकॉन प्रतिमा तैयार की।’

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत में दूध उत्पादन में करीब 60 प्रतिशत वृद्धि हुई है
ईडी ने अरविंद केजरीवाल को नया समन जारी किया
सीबीआई ने सत्यपाल मलिक के परिसरों सहित 30 से अधिक स्थानों पर छापे मारे
निवेश पर उच्च रिटर्न का वादा कर एक शख्स से 1.19 करोड़ रु. ठगे
नशे की प्रवृत्ति पर लगाम जरूरी
कर्नाटक सरकार ने अधिवक्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी पर उप-निरीक्षक को निलंबित किया
'हार रहे उम्मीदवारों को जिताया' ... पाक के चुनावों में 'धांधली' के आरोपों पर क्या बोला अमेरिका?