सीतारमण ने मुद्रा योजना के लाभान्वितों को सौंपे चेक

सीतारमण ने मुद्रा योजना के लाभान्वितों को सौंपे चेक

चेन्नई। देश की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को यहां राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी द्वारा इंडियन ओवरसीज बैंक के तत्वाधन में आयोजित मुद्रा योजना के प्रचार-प्रसार के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस अवसर पर उन्होंने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मुद्रा योजना के तहत लाभान्वित होने वाले प्रत्येक १०० लाभार्थियों में से ७५ लाभार्थी महिला होती हैं। इससे पता चलता है कि केन्द्र सरकार महिलाओं का कितना ध्यान रखती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी खुद एक गरीब पृष्ठभूमि से हैं इसलिए वह हमेशा से गरीबों के प्रति सहानुभूति रखते हैं। यही कारण है कि उन्होंने सत्ता में आने के ठीक बाद मुद्रा योजना की शुरुआत की ताकि ज्यादा से ज्यादा आर्थिक रुप से कमजोर पृष्ठभूमि के लोगों को इसका लाभ मिल सके।उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में गरीब लोग आत्मविश्वास कम होने के कारण बैंक जाने से हिचकते हैं। मुद्रा योजना के माध्यम से हमारे प्रधानमंत्री ने गरीब लोगों की मौलिक जरुरतों को बैंक मित्रों द्वारा पूरा करने की कोशिश की है। प्रधानमंत्री ने बैंक अधिकारियों को प्रत्येक गरीब आदमी का खाता खुलवाने के लिए उनके घर तक पहुंचा दिया है। कार्यक्रम में उपस्थित राज्य के नगरपालिका प्रशासन मंत्री एसपी वेलूमणि ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा वर्ष २०१५ में मुद्रा योजना का शुभारंभ करने के बाद से अब तक राज्य के लाखों उद्यमी बनने के इच्छुक युवाओं को इसका लाभ मिला है और वह अपना व्यापार सफलतापूर्वक शुरु करने और उसे बढाने में सक्षम हुए हैं। उन्होंने कहा कि दुकानदार, छोटी व्यापारिक इकाइयों के मालिक, हथकरघा पर काम करने वाले कारीगर और छोटे उद्ममियों को इसका काफी लाभ मिला है। उन्होंने बताया कि चेन्नई के लगभग ३,५०० स्ट्रीट वेंडरों को इस योजना का लाभ मिला है। इस योजना के तहत व्यापार शुरु करने के लिए ५० हजार रुपए से लेकर १० लाख रुपए तक का ऋण मिलता है। भारतीय रिजर्व बैंक के आंक़डों के अनुसार अभी तक मुद्रा योजना के तहत देश में ८,००० करो़ड रुपए का ऋण दिया गया है। वेलूमणि ने केन्द्रीय रक्षा मंत्री को कोयंबटूर में दो औद्योगिक पार्कों के उद्घाटन के मौके पर आमंत्रित भी किया।इसके बाद रक्षा मंत्री ने लाभार्थियों को मुद्रा योजना के तहत मिली राशि के चेक सौंपे। मुद्रा योजना के तहत ऋण प्राप्त कर सफल होने वाले तीन उद्यमियों पद्मावती, धनलक्ष्मी और विघ्नेश कुमार ने अपनी सफलता की कहानी साझा की। निर्मला सीतारमण ने इस अवसर पर मुद्रा योजना के लाभार्थियों की सफलता की कहानियों को बताने के बारे में प्रकाशित की गई एक पुस्तक का भी विमोचन किया। उन्होंने इंडियन ओवरसीज बैंक के ऑनलाइन बिक्री प्लेटफॉर्म ‘मार्केट प्लेस’’ का भी उद्घाटन किया। इस अवसर पर भाजपा की प्रदेशाध्यक्ष तमिलसै सौंदरराजन, चेन्नई के कलेक्टर वी अंबुसेल्वम और सभी बैंकों के कार्यकारी अधिकारी उपस्थित थे।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News