‘आत्मनिर्भर भारत पैकेज’ ऐतिहासिक, आर्थिक व्यवस्था की कड़ियों को मजबूती प्रदान करने वाला: नड्डा

‘आत्मनिर्भर भारत पैकेज’ ऐतिहासिक, आर्थिक व्यवस्था की कड़ियों को मजबूती प्रदान करने वाला: नड्डा

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा

नई दिल्ली/भाषा। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित विशेष आर्थिक पैकेज को ऐतिहासिक बताते हुए बुधवार को कहा कि यह आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने के साथ, देश के विभिन्न वर्गों को तथा आर्थिक व्यवस्था की कड़ियों को मजबूती प्रदान करने वाला है।

नड्डा ने अपने बयान में कहा, ‘प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत देश में विकास को गति देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपए के विशेष एवं ऐतिहासिक पैकेज की घोषणा की है। यह पैकेज देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के लगभग 10 फीसदी के बराबर है। मैं इसका स्वागत करता हूं और प्रधानमंत्री का अभिनंदन करता हूं।’

उन्होंने कहा कि यह पैकेज केवल कोविड-19 से लड़ने का माध्यम ही नहीं है बल्कि यह देश को सशक्त और आत्मनिर्भर भी बनाएगा। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कोविड-19 महामारी से जीवटता के साथ मुकाबला कर रहे समग्र राष्ट्र के विकास एवं देशवासियों के कल्याण के लिए प्रधानमंत्री की ओर से घोषित यह पैकेज अत्यंत सराहनीय कदम है।

नड्डा ने कहा, ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज के जरिए देश के विभिन्न वर्गों को एवं आर्थिक व्यवस्था की कड़ियों को मजबूती प्रदान की जा सकेगी।’ उन्होंने कहा कि 20 लाख करोड़ रुपए का यह पैकेज देश की विकास यात्रा को गति देगा।’

उन्होंने कहा, ‘आत्मनिर्भर भारत के संकल्प को सिद्ध करने के लिए इस पैकेज में देश के गरीबों, मजदूरों, मध्यम वर्ग और लघु उद्योगों का खास ध्यान रखा गया है, जो कि आत्मनिर्भर भारत के हमारे संकल्प का आधार हैं।’ भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘इसमें मध्यम वर्ग और करदाताओं का खास ध्यान रखा गया है। यह पैकेज अपने आप में ऐतिहासिक है और आर्थिक क्षेत्र को जबर्दस्त गति देने वाला है।’

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर भारत को आत्म-निर्भर बनाने में मदद के लिए मंगलवार को कुल 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा की और स्थानीय कारोबारों को प्रोत्साहन देने पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री ने बड़े आर्थिक सुधारों का संकेत देते हुए कहा, ‘यह आर्थिक पैकेज हमारे श्रमिकों, किसानों, ईमानदार करदाताओं सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यमों और कुटीर उद्योगों के लिए होगा। पैकेज में भूमि, श्रम, नकदी और कानून सभी क्षेत्रों पर ध्यान दिया गया है। यह पैकेज भारतीय उद्योग जगत के लिए है, उसे बुलंदी पर पहुंचाने के लिए है।’

कुल 20 लाख करोड़ रुपए के इस पैकेज में आरबीआई द्वारा अब तक कोविड-19 संकट से निपटने के लिए घोषित उपाय भी शामिल हैं।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना
Photo: RailMinIndia FB page
विजयेंद्र बोले- ईश्वरप्पा को भाजपा से निष्कासित किया गया, क्योंकि वे ...
तुष्टीकरण और वोटबैंक की राजनीति कांग्रेस के डीएनए में हैं: मोदी
संदेशखाली में वोटबैंक के लिए ममता दीदी ने गरीब माताओं-बहनों पर अत्याचार होने दिया: शाह
इंडि गठबंधन पर नड्डा का प्रहार- परिवारवादी पार्टियां अपने परिवारों को बचाने में लगी हैं
'सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास डिफॉल्टरों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की शक्ति नहीं'
कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा सुनना भी गुनाह हो जाता है: मोदी