5 राज्यों में विधानसभा चुनावों के ऐलान के बाद फेसबुक भी सतर्क, नफरत भरे भाषणों पर पैनी नजर

5 राज्यों में विधानसभा चुनावों के ऐलान के बाद फेसबुक भी सतर्क, नफरत भरे भाषणों पर पैनी नजर

facebook

नई दिल्ली/भाषा। सोशल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म फेसबुक ने शनिवार को कहा कि वह स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के लिए लोगों एवं नेताओं को उसके प्लेटफॉर्म के जरिए संवाद के लिए प्रोत्साहित करेगा। हालांकि, चुनाव के दौरान नफरत भरे भाषण के प्रसार पर रोक लगाने के लिए कंपनी एक कार्यदल की तैनाती करेगी।

फेसबुक के पब्लिक पॉलिसी ईएमईए के उपाध्यक्ष रिचर्ड एलन ने संवाददाताओं से कहा, हम चाहते हैं कि हमारे प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव एवं सकारात्मक संवाद के लिए हो। हम नेताओं से बातचीत करने वाले लोगों का स्वागत करते हैं लेकिन हम नहीं चाहते हैं कि लोग इस मंच का दुरुपयोग करें। कंपनी चुनाव के दौरान विचारों को प्रभावित करने, नफरत भरे भाषण के प्रसार सहित अन्य मुद्दों के लेकर आलोचना झेलती रही है।

फेसबुक ने घृणास्पद बातों के प्रसार को रोकने के लिए एक नीति पर काम करना शुरू किया है। इसके तहत कंपनी नफरत एवं हिंसा फैलाने वाली सामग्रियों के अपने प्लेटफॉर्म से हटा देगी। एलन ने कहा कि विभिन्न देशों में अलग-अलग तरह से दुरुपयोग होता है लेकिन उनका सिद्धांत एक है। उन्होंने कहा कि फेसबुक इस मुद्दे के समाधान के लिए अपनी नीति को और कारगर बनाने की दिशा में काम कर रहा है।

उन्होंने कहा, जब हम आगामी चुनावों के बारे में सोचते हैं तो निश्चित तौर पर दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र होने के नाते भारत सबसे अहम हो जाता है। इसके लिए हमारे पास एक कार्यबल है। इसमें सुरक्षा एवं सामग्री विशेषज्ञ शामिल होते हैं। हम यह समझने की कोशिश कर रहे हैं कि भारत या ब्रिटेन या किसी अन्य देश में किस प्रकार दुरुपयोग होता है। उनका यह बयान इस साल होने वाले राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम विधानसभा चुनावों के परिप्रेक्ष्य में अहम है।

ये भी पढ़िए:
– बैंक मैनेजर का कारनामा: अमीरों के खातों से रकम निकाल गरीबों को भेजी, बांट दिए करोड़ों
– राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मप्र में क्या है सीटों का गणित और कौन बिगाड़ सकता है चुनावी बिसात?
– इन 5 राज्यों में बज गया चुनावी बिगुल, जानिए कहां कब होगा मतदान
– बंदर को बस चलाना सिखा रहा था ड्राइवर, वायरल हुआ यह वीडियो
– क्या राजस्थान में तीसरे मोर्चे के नाम पर सियासी जुगलबंदी कांग्रेस को पहुंचाएगी नुकसान?

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News