चारधाम यात्रा पर जाना चाहते हैं? आ गई बड़ी खबर

तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए पशासन ने लिया बड़ा फैसला

चारधाम यात्रा पर जाना चाहते हैं? आ गई बड़ी खबर

Photo: Shri Badarinath -Kedarnath Temple Committee - bktcuk FB page

देहरादून/दक्षिण भारत। उत्तराखंड के गढ़वाल क्षेत्र में सात-आठ जुलाई को भारी से बहुत भारी बारिश की मौसम विभाग की भविष्यवाणी के मद्देनजर रविवार को चारधाम यात्रा अस्थायी रूप से स्थगित कर दी गई।

गढ़वाल आयुक्त विनय शंकर पांडे ने कहा कि तीर्थयात्रियों की सुरक्षा के लिए यात्रा स्थगित करने का निर्णय लिया गया है।

उन्होंने कहा कि गढ़वाल मंडल में सात-आठ जुलाई को भारी बारिश की मौसम विभाग की भविष्यवाणी के मद्देनजर सभी श्रद्धालुओं से आग्रह किया जाता है कि वे 7 जुलाई को ऋषिकेश से आगे चारधाम यात्रा के लिए रवाना न हों।

उन्होंने कहा कि जो लोग तीर्थयात्रा पर निकल चुके हैं, उन्हें मौसम साफ होने तक वहीं इंतजार करना चाहिए, ताकि वे अपनी आगे की यात्रा शुरू कर सकें।

बता दें कि पिछले कुछ दिनों से उत्तराखंड के विभिन्न इलाकों में भारी बारिश के कारण पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन हो रहा है। बद्रीनाथ जाने वाला राजमार्ग कई स्थानों पर पहाड़ी से गिर रहे मलबे के कारण अवरुद्ध हो गया है।

चमोली जिले के कर्णप्रयाग के चटवापीपल इलाके के पास भूस्खलन के बाद पहाड़ी से गिरे पत्थरों की चपेट में आकर हैदराबाद के दो तीर्थयात्रियों की शनिवार को मौत हो गई। वे मोटरसाइकिल पर बद्रीनाथ से लौट रहे थे, तभी दुर्घटना हुई।

उत्तराखंड की नदियां भी उफान पर हैं। जोशीमठ के पास विष्णु प्रयाग में अलकनंदा खतरे के निशान के करीब बह रही है। अलकनंदा विष्णु प्रयाग में धौली गंगा में मिल जाती है।       

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News