देवेगौड़ा ने पोते प्रज्ज्वल को स्वदेश लौटने, आरोपों की जांच का सामना करने को लेकर 'चेतावनी' दी

जद (एस) सुप्रीमो ने कहा कि उनके पोते को 'दोषी पाए जाने पर' कानून के तहत कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए

देवेगौड़ा ने पोते प्रज्ज्वल को स्वदेश लौटने, आरोपों की जांच का सामना करने को लेकर 'चेतावनी' दी

Photo: @H_D_Devegowda X account

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। जद (एस) के संरक्षक एवं पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा ने गुरुवार को अपने पोते व निलंबित पार्टी सांसद प्रज्ज्वल रेवन्ना के लिए 'कड़ी चेतावनी' जारी की। उन्होंने प्रज्ज्वल को स्वदेश लौटने और यौन शोषण के आरोपों की जांच का सामना करने के लिए कहा। साथ ही कहा कि पूछताछ में उनका या परिवार के अन्य सदस्यों का कोई हस्तक्षेप नहीं होगा।

उन्होंने कई महिलाओं के यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे पार्टी के हासन सांसद प्रज्ज्वल को भारत लौटने और पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने को कहा। कथित तौर पर प्रज्ज्वल ने अप्रैल के आखिरी सप्ताह में जर्मनी के लिए उड़ान भरी थी।

जद (एस) सुप्रीमो ने कहा कि उनके पोते को 'दोषी पाए जाने पर' कानून के तहत कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि इस समय मैं केवल एक काम कर सकता हूं। मैं प्रज्ज्वल को कड़ी चेतावनी दे सकता हूं और उससे कह सकता हूं कि वह जहां भी है, वहां से लौट आए और पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दे। उसे खुद को कानूनी प्रक्रिया के अधीन करना चाहिए।

देवेगौड़ा ने स्पष्ट किया कि यह 'कोई अपील नहीं है, जो मैं कर रहा हूं। यह एक चेतावनी है, जो जारी कर रहा हूं।'

उन्होंने कहा कि यदि उसने इस चेतावनी पर ध्यान नहीं दिया तो उसे मेरे क्रोध और अपने परिवार के सभी सदस्यों के क्रोध का सामना करना पड़ेगा। कानून उस पर लगे आरोपों पर ध्यान देगा, लेकिन परिवार की बात न सुनने से उनका पूर्ण अलगाव सुनिश्चित हो जाएगा। अगर उसके मन में मेरे लिए थोड़ा भी सम्मान बचा है तो उसे तुरंत लौटना होगा।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List