देश में पहले जो सरकारें रहीं, उनके लिए महिलाओं का जीवन प्राथमिकता नहीं रहा: मोदी

प्रधानमंत्री ने दिल्ली में 'सशक्त नारी-विकसित भारत' कार्यक्रम में भाग लिया

देश में पहले जो सरकारें रहीं, उनके लिए महिलाओं का जीवन प्राथमिकता नहीं रहा: मोदी

देश में एक करोड़ से ज्यादा बहनें पिछले दिनों अलग-अलग योजनाओं और प्रयासों के कारण लखपति दीदी बन चुकी हैं

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को दिल्ली में 'सशक्त नारी-विकसित भारत' कार्यक्रम में भाग लिया। उन्होंने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि आज का यह कार्यक्रम महिला सशक्तीकरण के लिहाज से बहुत ऐतिहासिक है। आज मुझे नमो ड्रोन दीदी अभियान के तहत एक हजार आधुनिक ड्रोन महिलाओं के स्वयं सहायता समूहों को सौंपने का अवसर मिला है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में एक करोड़ से ज्यादा बहनें पिछले दिनों अलग-अलग योजनाओं और प्रयासों के कारण लखपति दीदी बन चुकी हैं। यह आंकड़ा छोटा नहीं है। मैंने यह फैसला लिया कि हमें अब 3 करोड़ लखपति दीदी के आंकड़े को पार करना है। इसी उद्देश्य से आज 10 हजार करोड़ रुपए की राशि भी इन दीदियों के खाते में ट्रांसफर की गई है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कोई भी देश हो, कोई भी समाज हो, वह नारीशक्ति की गरिमा बढ़ाते हुए, उनके लिए नए अवसर बनाते हुए ही आगे बढ़ सकता है। लेकिन दुर्भाग्य से देश में पहले जो सरकारें रहीं, उनके लिए आप सभी महिलाओं का जीवन, आपकी मुश्किलें कभी प्राथमिकता नहीं रहीं और आपको आपके नसीब पर छोड़ दिया गया था।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का कार्यक्रम महिला सशक्तीकरण की दृष्टि से विशेष महत्त्वपूर्ण है। नमो ड्रोन दीदी कार्यक्रम के तहत आज महिला स्वयं सहायता समूहों को 1,000 ड्रोन वितरित किए हैं। एक करोड़ से अधिक महिलाएं अपने दम पर 'लखपति दीदी' बन गई हैं। जब मैं ऐसी बातें सुनता हूं तो मेरा आत्मविश्वास बढ़ जाता है। इससे मुझे विश्वास होता है कि हम सही दिशा में काम कर रहे हैं। मैं योजना बनाता हूं और आप प्रतिबद्धतापूर्वक उस पर काम करते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आज देश की हर महिला, हर बहन, हर बेटी को यह बताना चाहता हूं कि जब-जब मैंने लाल किले से आपके सशक्तीकरण की बात की, दुर्भाग्य से कांग्रेस जैसे राजनीतिक दलों ने मेरा मजाक उड़ाया, मेरा अपमान किया।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News