मन से मन को जोड़ती है मातृभाषा: सीना राजेंद्रन

'क्षेत्रीय भाषा का प्रयोग और ग्राहक सेवा पर इसका सकारात्मक प्रभाव' विषय पर हिंदी में परिचर्चा कार्यक्रम हुआ

मन से मन को जोड़ती है मातृभाषा: सीना राजेंद्रन

केनरा बैंक के प्रधान कार्यालय के ‘सभागार’ में आयोजन हुआ

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। केनरा बैंक के प्रधान कार्यालय के ‘सभागार’ में 21 फरवरी को अंतरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस के उपलक्ष्य में 'क्षेत्रीय भाषा का प्रयोग और ग्राहक सेवा पर इसका सकारात्मक प्रभाव' विषय पर हिंदी में परिचर्चा कार्यक्रम हुआ। इसकी अध्यक्षता मानव संसाधन विभाग के महाप्रबंधक टीके वेणुगोपाल ने की। कार्यक्रम में प्रख्यात भाषाविद् सीना राजेंद्रन विशेष अतिथि थीं।

कार्यक्रम में विभिन्न विभागों के कर्मचारियों ने प्रतिभागिता की एवं क्षेत्रीय भाषा में ग्राहक सेवा प्रदान करने के महत्त्व पर अपने विचार प्रस्तुत किए। इस अवसर पर सीना राजेंद्रन ने कहा कि मातृभाषा मन से मन को और अपनी सभ्यता व संस्कृति से संबंध को जोड़ती है। 

महाप्रबंधक टीके वेणुगोपाल ने अपने अध्यक्षीय भाषण में सभी प्रतिभागियों से अनुरोध किया कि वे जिस क्षेत्र में कार्य करते हैं, उस क्षेत्र विशेष की भाषा और सभ्यता को समझ कर ग्राहक सेवा प्रदान करें, ताकि हम बेहतर ढंग से ग्राहकों से जुड़ सकें।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ज़िंदगी से खिलवाड़ ज़िंदगी से खिलवाड़
भारत में हर साल बड़ी तादाद में हादसे होते हैं, जिनमें बहुत लोग जान गंवाते हैं
'इंडि' गठबंधन के पक्ष में जन समर्थन की एक अदृश्य लहर है: खरगे का दावा
आज का भारत मोदी के नेतृत्व में न तो किसी के पास गिड़गिड़ाता है, न ही पिछलग्गू है: नड्डा
अदालत ने कविता को 15 अप्रैल तक सीबीआई हिरासत में भेजा
मोदी का आरोप- कांग्रेस की सोच विकास विरोधी, ये सीमावर्ती गांवों को 'आखिरी गांव' कहते हैं
नरम पड़े मालदीव के तेवर, भारत से आयात के लिए स्थानीय मुद्रा में भुगतान को लेकर कर रहा बात
ठगों से सावधान: आरबीआई में नौकरी के नाम लगा दिया 2 करोड़ रु. से ज्यादा का चूना