प्रधानमंत्री मोदी करेंगे प्रमुखस्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव का उद्घाटन

अहमदाबाद में बहेगी ज्ञान और अध्यात्म की सरिता

प्रधानमंत्री मोदी करेंगे प्रमुखस्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव का उद्घाटन

शताब्दी महोत्सव के उपलक्ष्य में अनेक समाजोपयोगी गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है

अहमदाबाद/दक्षिण भारत। गुजरात के अहमदाबाद में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रमुखस्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव का उद्घाटन करेंगे। संस्था ने बताया कि शाम 5 बजे मोदी प्रमुखस्वामी महाराज नगर पहुंचेंगे। नगर के विराट प्रवेश द्वार के पास भव्य उद्घाटन समारोह का आयोजन होगा। नगर का उद्घाटन महंतस्वामी महाराज की पावन निश्रा में किया जाएगा। इस अवसर पर बच्चों द्वारा स्वागत नृत्य व सांस्कृतिक प्रस्तुति भी दी जाएगी।

'दूसरों के भले में अपना भला, दूसरों के सुख में अपना सुख' - का जीवन-मंत्र देने वाले प्रमुखस्वामी महाराज ने अनेक लोगों को जीवन की राह दिखाकर शांति की अनुभूति कराई थी। उन्होंने अपने 95 साल के जीवन काल में देश-विदेश के अनेक परिवारों को टूटने से बचाया, लाखों लोगों को व्यसन मुक्त किया और पर्यावरण जागृति जैसे उत्कृष्ट कार्य भी किए। 

उल्लेखनीय है कि पिछले एक साल से प्रमुखस्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव के उपलक्ष्य में अनेक समाजोपयोगी गतिविधियों का संचालन बीएपीएस संस्था द्वारा किया जा रहा है। 

संस्था ने बताया कि प्रमुखस्वामी महाराज शताब्दी महोत्सव के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रमों के तहत इस साल 31 जनवरी से 15 अप्रैल तक 17 राज्यों में पारिवारिक शांति अभियान चलाए गए, 72 हजार से ज्यादा महिला-पुरुष स्वयंसेवक इस अभियान में जुड़े, 10 हजार से ज्यादा शहरों-गांवों में संपर्क अभियान चलाया गया, 72 लाख मानव घंटों का समय दान किया गया, 60 लाख लोगों को पारिवारिक शांति की प्रेरणा दी गई।

baps2

इसी तरह शताब्दी महोत्सव के उपलक्ष्य में बीएपीएस बाल मंडलों द्वारा 8 मई से 22 मई तक विराट व्यसन मुक्ति अभियान और प्रकृति संवर्द्धन अभियान आयोजित किए गए। व्यसन मुक्ति अभियान में 12 से 14 साल के 16 हजार बालकों ने घरों, दुकानों, फैक्ट्रियों, सरकारी और अन्य दफ्तरों में, बस स्टेशन और सार्वजनिक स्थलों पर जन संपर्क किया। इस दौरान कुल 14 लाख लोगों से संपर्क किया गया। वहीं, 4 लाख लोगों ने तंबाकू, सिगरेट आदि व्यसन छोड़ने का संकल्प किया। 31 मई को ‘विश्व तंबाकू निषेध दिवस’ के अवसर पर देशभर में लगभग 100 व्यसन मुक्ति रैलियों का आयोजन किया। इनमें 50,000 बाल-बालिकाओं ने भाग लिया।

इसके अलावा प्रकृति संवर्द्धन अभियान में 12 से 14 साल की 14 हजार बालिकाओं ने भाग लिया।  उन्होंने 12 लाख लोगों से संपर्क किया गया। इस दौरान पानी बचाओ, बिजली बचाओ और पौधरोपण का संदेश दिया गया। 10 लाख लोगों ने पानी बचाने का, 6 लाख लोगों ने पौधरोपण का संकल्प लिया। इसके बाद पूरे गुजरात एवं देशभर में 21 संत सम्मेलनों का आयोजन हुआ। 

शताब्दी महोत्सव के अंतिम चरण में अंतरराष्ट्रीय स्तर का समारोह 15 दिसंबर से अगले साल 15 जनवरी तक अहमदाबाद के 'प्रमुखस्वामी महाराज नगर' में होगा।

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement

Latest News

सेना ने ‘अग्निवीर’ भर्ती प्रक्रिया में किया यह बड़ा बदलाव सेना ने ‘अग्निवीर’ भर्ती प्रक्रिया में किया यह बड़ा बदलाव
उम्मीदवारों को शारीरिक रूप से चुस्त-दुरुस्त होने (फिजिकल फिटनेस) संबंधी परीक्षण और मेडिकल जांच से गुजरना होगा
कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा अपने काम के बल पर करेगी सत्ता में वापसी: येडियुरप्पा
मोदी सरकार ने गरीब, आदिवासी और पिछड़ों के हित को हमेशा वरीयता दी: शाह
पाकिस्तान ने विकिपीडिया पर प्रतिबंध लगाया
कर्नाटक में मतदाताओं को रिझाने के लिए बांटे जा रहे प्रेशर कुकर, डिनर सेट!
बिहार: एनआईए की कार्रवाई, पीएफआई के 3 संदिग्ध सदस्य गिरफ्तार
भाजपा ने धर्मेंद्र प्रधान को कर्नाटक के लिए पार्टी का चुनाव प्रभारी नियुक्त किया