चिली को हराकर महिला हॉकी विश्व लीग के क्वार्टर फाइनल में पहुंची भारतीय टीम

चिली को हराकर महिला हॉकी विश्व लीग के क्वार्टर फाइनल में पहुंची भारतीय टीम

जोहानिसबर्ग। प्रीति दुबे के महत्वपूर्ण गोल की बदौलत भारत ने बुधवार को यहां चिली को १-० से हराकर एफआईएचल महिला हॉकी विश्व लीग (एचडब्ल्यूएल) सेमीफाइनल के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। प्रीति के ३८वें मिनट में किए गए गोल ने सुनिश्चित किया कि भारत टूर्नामेंट में अपनी पहली जीत दर्ज करे जबकि उसने पिछले मैचों में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एक गोलरहित ड्रा खेला था और उसे मजबूत अमेरिका से १-४ से शिकस्त का सामना करना प़डा था।चिली ने मैच के चौथे ही मिनट में पहला पेनल्टी कार्नर हासिल किया जबकि भारत को १२वें मिनट में पहला शॉर्ट कार्नर मिला। हालांकि ऐसा लग रहा था कि भारत ने रिबाउंड पर गोल किया है लेकिन वीडियो रेफरल के बाद इसे गोल नहीं माना गया क्योंकि यह खिला़डी के शरीर से हुआ था, स्टिक से नहीं। दूसरे क्वार्टर में चिली ने कुछ मौके बनाए लेकिन वह भारत को गोल करने के मौकों से नहीं रोक पाया। ऐसा ही मौका १९वें मिनट में मिला जब अनूपा बार्ला ने चिली की खिला़डी से गेंद छीनते हुए सर्कल के अंदर रानी के पास भेजा लेकिन यह स्ट्राइकर मौका चूक गई। पहले हाफ में दोनों टीमें कोई गोल नहीं कर सकीं लेकिन भारत को आखिर रानी और प्रीति के साथ प्रयास करने से सफलता मिली। रानी-प्रीति विपक्षी टीम के सर्कल में घुसी लेकिन प्रीति ने ३८वें मिनट में बॉल पर तेज शॉट लगाया और चिली की गोलकीपर को पछा़डते हुए गोल दागा। भारत ने लगातार आक्रमण करते हुए चिली पर दबाव बनाया और रानी को गोल करने का एक और मौका मिला लेकिन चिली की गोलकीपर ने अपनी सतर्कता से इसे विफल कर दिया। रेणुका यादव को पीला कार्ड दिखाए जाने से बेंच पर बैठना प़डा जिससे भारत ने चौथे क्वार्टर की शुरूआत १० खिलाि़डयों के साथ की। चिली ने १७ बार सर्कल के अंदर सेंध लगाई लेकिन गोल पर एक भी बार निशाना नहीं लगा सकी जबकि भारत ने १६ बार सर्कल के अंदर प्रवेश करते हुए पांच बार गोल की ओर शॉट लगाए। अंतिम १५ मिनट काफी तनावपूर्ण रहे जिसमें चिली ने भारतीय डिफेंस को तो़डने के लिए कई प्रयास किए। अब भारत की भि़डंत १६ जुलाई को पूल बी के अंतिम मैच में अर्जेंटीना से होगी।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News