उम्मीदों, भय के बीच पद्माावत की रिलीज की उलटी गिनती आरंभ

उम्मीदों, भय के बीच पद्माावत की रिलीज की उलटी गिनती आरंभ

मुंबई। प्रदर्शनों और हिंसा की धमकियों ने भले ही संजय लीला भंसाली की पद्मावत के लिए मुश्किलें पैदा कर दी हों, लेकिन कारोबारी पंडित, सिनेमा मालिक तथा यहां तक कि दर्शक भी इस बहुप्रतीक्षित फिल्म को थियटरों में देखने के लिए उत्सुक हैं। फिल्म के निर्माताओं और वितरकों को राहत प्रदान करते हुए उच्चतम न्यायालय ने इस हफ्ते की शुरुआत में फिल्म की रिलीज की इजाजत दी। फिल्म २५ जनवरी को रिलीज हो रही है।सिनेमा ऑनर्स एंड एक्जिबिटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के सदस्य एवं पूर्व अध्यक्ष नितिन धर ने कहा, हम उनके (प्रदर्शनकारियों) के अगले कदम के बारे में नहीं जानते हैं। इसलिए हमने सिनेमाघर मालिकों से कहा है कि वे हालात का जायजा लें और इसके मुताबिक ही अपने यहां फिल्म रिलीज करने के बारे में फैसला करें। उन्होंने कहा, देश के कुछ हिस्सों में समस्याएं आ सकती हैं। ऐसे में हमने वितरकों से आग्रह किया है और सिनेमाघर मालिकों को सलाह दी है कि अपनी संपत्ति और दर्शकों की सुरक्षा के लिए वे पुलिस से संपर्क करें। वितरक और सिनेमाघर मालिक अक्षय राठी को देश के ४००० स्क्रीन में ७५ फीसदी बुकिंग होने की उम्मीद है। भंसाली की इस फिल्म में दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर मुख्य भूमिकाओं में हैं।

Google News
Tags:

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

बीते 10 वर्षों में जनजातीय समाज, गरीबों, युवाओं, महिलाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता बनाकर काम किया: मोदी बीते 10 वर्षों में जनजातीय समाज, गरीबों, युवाओं, महिलाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता बनाकर काम किया: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि मैंने संकल्प लिया था कि सिंदरी के इस खाद कारखाने को जरूर शुरू करवाऊंगा
विधानसभा अध्यक्ष के आदेश के खिलाफ ठाकरे गुट की याचिका पर 7 मार्च को सुनवाई करेगा उच्चतम न्यायालय
बांग्लादेश: ढाका की बहुमंजिला इमारत में आग लगने से 45 लोगों की मौत
हिंसा का चक्र कब तक?
उदित राज ने भाजपा पर दलितों, पिछड़ों, महिलाओं और आदिवासियों की अनदेखी का आरोप लगाया
केंद्रीय कैबिनेट ने 75 हजार करोड़ रुपए की रूफटॉप सोलर योजना को मंजूरी दी
मंदिर संबंधी विधेयक कर्नाटक विधानसभा से फिर पारित हुआ