अभिनेत्री होने के कारण कोई विचार रखना कठिन है : तापसी

अभिनेत्री होने के कारण कोई विचार रखना कठिन है : तापसी

मुंबई। बालीवुड अभिनेत्री तापसी पुन्नू को पिंक ओर नाम शबाना जैसी फिल्मों में जोरदार अभिनय के लिए फिल्म उद्योग की ओर से तारीफ मिल सकती है, लेकिन उनका कहना है कि वास्तविक जीवन में यह बहुत मुश्किल है कि लोग इस प्रकार की महिला को स्वीकार करें। तेलगु फिल्म झुमंदी नादम से अपने अभिनय कैरियर की शुरूआत करने वाली ३० वर्षीय अभिनेत्री का कहना है, कि समाज की तरह ही फिल्म उद्योग में भी पितृसत्तात्मक मानसिकता मौजूद है। तापसी ने कहा, एक अभिनेत्री होने के नाते, जो एक दृ़ढ सोच समझ रखती है और जो आत्म-सम्मान नहीं छो़ड सकती है। कई बार मैं अपने आप से पूछती हूं कि क्या मैं अपने आत्म सम्मान से समझौता कर सकती हूं या क्या मुझे कुछ ऐसा करना चाहिए, जो मेरे कैरियर के लिहाज से बेहतर हो ? उन्होंने कहा, कई बार मुझे लगता है कि क्या मुझे वाकई चालाक अथवा तेज तर्रार होना चाहिए, क्योंकि इससे मुझे या मेरे कैरियर को फायदा होगा। लेकिन कई बार आत्म सम्मान के खातिर मुझे अपने कदम पीछे खींचने प़डते हैं, जिसे बहुत से लोग अच्छा नहीं समझते हैं। अभिनेत्री को इस बात की खुशी है कि महिलायें अब मुखर हो रही है और अपना दिमाग इस्तेमाल कर रही हैं।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement