तमन्ना को खामोशी पर नाज

तमन्ना को खामोशी पर नाज

मुंबई। प्रोड्यूसर वाशु भगनानी की फिल्म खामोशी भारतीय इतिहास की पहली फिल्म है जो रेसोलुशन कैमरे पर शूट की गई है। इस फिल्म का निर्देशन इंडो-अमेरिकन निर्देशक चाकरी टोलेटी ने किया है जोकि इसके पहले साउथ में डॉन और वेडनसडे जैसी हिट फिल्में कर चुके हैं। फिल्म की नायिका तमन्ना हैं तो उन्हें इस पर नाज होना स्वाभाविक है।निर्देशक चाकरी टोलेटी अपने तकनीकी कौशल के लिए जाने जाते हैं और इस फिल्म के साथ वो बॉलीवुड में अपना डेब्यू कर रहे हैं। यह फिल्म ३ भाषाओं में बनाई गई है। खामोशी के तमिल संस्करण में नयन्थारा नजर आएंगी वहीं हिंदी संस्करण में र्पभु देवा और तमन्ना भाटिया हैं। रेसुलेशन कैमरे के लेन्सेस और तकनीक की लागत काफी होती है। यह जानते हुए भी फिल्म निर्माता वाशु भगनानी ने इस तकनीक को भारतीय सिनेमा इंडस्टी में लाने की हिम्मत की है जो वाकई बड़ी बात है। इस फिल्म में कॉस्ट्यूम और मेकअप के साथ-साथ सेट पर भी तगड़ा धन खर्च हुआ है। यह एक थ्रिलर है जिसमें तम्मना एक मूक-बधिर की भूमिका में हैं। पूरी शूटिंग लंदन में हुई है। इस फिल्म के एक्शन डायरेक्टर स्टीफन रिचर्ड हैं इस फिल्म के साउंड डिजाइन वैलेरियो सेरेनी ने किया है।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List