स्वास्थ्य विभाग को सोशल मीडिया पर किया जा रहा पसंद

स्वास्थ्य विभाग को सोशल मीडिया पर किया जा रहा पसंद

चेन्नई। तमिलनाडु स्वास्थ्य विभाग ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग कर रहा है जिसे राज्य के लोगों द्वारा काफी पसंद किया जा रहा है। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने मौजूदा समय में स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां ऑनलाइन प्राप्त करने के इच्छुक लोगों की संख्या बढने के बाद विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर पिछले महीने ही धमक दी है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री सी विजय भाष्कर ने राज्य स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल का शुभारंभ किया था और लोगों से इनके माध्यम से लोगों को जु़डने की अपील की थी।स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार मौजूदा समय की मांग के अनुसार इंटरनेट के माध्यम से स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के बाद युवा और महिलाएं काफी संख्या में स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्राप्त कर रहे हैं। राज्य स्वास्थ्य विभाग के आधिकारिक यू ट्यूब चैनल को भी पसंद किया जा रहा है और इसके सब्सक्राइबरों की संख्या बढ रही है। सोशल मीडिया के इन सभी साधनों से लोगों को राज्य स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं के बारे में अवगत कराया जा रहा है। विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार विभाग की नई सूचनाओं को कम समय में ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने में भी यह मददगार साबित हो रहे हैं। इस सुविधा की देखरेख मुख्यमंत्री समग्र स्वास्थ्य योजना के तहत की जा रही है। राज्य स्वास्थ्य विभाग की इस पहल से सोशल मीडिया के माध्यम से विभाग के विशेषज्ञ राज्य के लोगों की स्वास्थ्य संबंधी शंकाओं का समाधान कर रहे हैं। ऐसे लोग अपनी समस्याओं को ऑनलाइन सामने रख रहे हैं जो स्वयं आने में असमर्थ हैं। इन माध्यमों से लोग स्वास्थ्य विभाग से संपर्क कर रहे हैं जिससे स्वास्थ्य विभाग उत्साहित है। विभाग द्वारा मीडिया का उपयोग लोगों को तथ्यात्मक जानकारी, साक्ष्य आधारित दिशा निर्देश देने के लिए किया जा रहा है। ज्ञातव्य है कि राज्य के स्वास्थ्य सचिव डॉ जे राधाकृष्णन ने इस संबंध में पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा था कि राज्य स्वास्थ्य विभाग ने गत वर्ष राज्य के विभिन्न जिलों में इस बात का अध्ययन किया था कि ऑनलाइन स्वास्थ्य संबंधी जानकारियां प्राप्त करने वाले लोगों की संख्या कितनी है। इस अध्ययन के दौरान ऑनलाइन स्वास्थ्य संबंधी जानकारी चाहने वालों से संबंधित विभिन्न विषयो के बारे में जानकारी प्राप्त की गई। राज्य के १९ जिला मुख्यालयों में स्थित प्रमुख अस्पतालों और छोटे कस्बों में स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में कार्यरत डॉक्टरों और चिकित्सा कर्मचारियों की मदद से यह अध्ययन किया गया जिसमें यह पाया गया कि राज्य में ऑनलाइन माध्यम से स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ लेने और स्वास्थ्य संबंधी मूलभूत जानकारियां प्राप्त करने के इच्छुक लोगों की संख्या काफी तेजी के साथ बढी है जिसके बाद यह तय किया गया कि सोशल मीडिया का उपयोग किया जाएगा क्योंकि अब इसके प्रति राज्य के लोगों में रुझान बढ रहा है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत में दूध उत्पादन में करीब 60 प्रतिशत वृद्धि हुई है
ईडी ने अरविंद केजरीवाल को नया समन जारी किया
सीबीआई ने सत्यपाल मलिक के परिसरों सहित 30 से अधिक स्थानों पर छापे मारे
निवेश पर उच्च रिटर्न का वादा कर एक शख्स से 1.19 करोड़ रु. ठगे
नशे की प्रवृत्ति पर लगाम जरूरी
कर्नाटक सरकार ने अधिवक्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी पर उप-निरीक्षक को निलंबित किया
'हार रहे उम्मीदवारों को जिताया' ... पाक के चुनावों में 'धांधली' के आरोपों पर क्या बोला अमेरिका?