शनिवार दोपहर 12 बजे बधाई गीतों से गूंज उठेगी राम की अयोध्या

शनिवार दोपहर 12 बजे बधाई गीतों से गूंज उठेगी राम की अयोध्या

भगवान राम

अयोध्या/वार्ता। राम की जन्मस्थली अयोध्या शनिवार दोपहर 12 बजे ‘भये प्रकट कृपाला दीन दयाला’ जैसी चौपाइयों तथा गीतों से गूँज उठेगी। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार चैत्र रामनवमी को मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का जन्म अयोध्या में हुआ था।

इसी उपलक्ष्य में इस नवमी को रामनवमी के रूप में जाना जाता है। रामनवमी के लिए हर वर्ष देश के कोने-कोने से यहां कई लाख श्रद्धालु पहुंचते हैं जो भोर से ही सरयू स्नान कर विभिन्न मंदिरों में पूजा-अर्चना शुरू कर देते हैं।

दोपहर बारह बजे के पूर्व इस क्रम में थोड़ी देर के लिए ठहराव आता है क्योंकि इस समय भगवान श्रीराम के प्रतीकात्मक जन्म की तैयारी शुरू हो जाती है। श्रद्धालु यह भी विहंगम दृश्य देखने के लिए मंदिरों में शरण लेते हैं। 12 बजते ही लगभग पूरी अयोध्या में एक खास समा बंध जाता है। अयोध्या में प्रसिद्ध कनक भवन मंदिर में भगवान श्रीराम का जन्म मनाया जाता है और मंदिर में बधाई और सोहर गीतों के सुर गूंजने लगते हैं।

इस अवसर पर दूरदराज से आये किन्नर भी भगवान श्रीराम के जन्म पर सोहर गीत गाते हैं और खूब धूमधाम से नाचते हैं। वैसे तो अयोध्या के रामजानकी महल ट्रस्ट सहित विभिन्न मंदिरों में भगवान राम का जन्म मनाया जाता है लेकिन कनक भवन में कुछ दृश्य अजीबो-गरीब होता है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

कांग्रेस ने हरियाणा को जातिवाद और भ्रष्टाचार के सिवा कुछ नहीं दिया: शाह कांग्रेस ने हरियाणा को जातिवाद और भ्रष्टाचार के सिवा कुछ नहीं दिया: शाह
महेंद्रगढ़/दक्षिण भारत। केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को हरियाणा के महेंद्रगढ़ में 'पिछड़ा वर्ग सम्मान' सम्मेलन...
बेंगलूरु: आईआईएमबी में 'लक्ष्य 2के24' में कई महत्त्वपूर्ण विषयों पर हुई चर्चा
केरल सरकार 100 दिनों में 13,013 करोड़ रु. की परियोजनाएं लागू करेगी: विजयन
भाजपा की गलत नीतियों का खामियाज़ा हमारे जवान और उनके परिवार भुगत रहे हैं: राहुल गांधी
बिहार: विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी के पिता की हत्या हुई
जम्मू-कश्मीर: मुठभेड़ में एक अधिकारी और 4 जवान शहीद
फिर वही ग़लती?