कासगंज में तनाव बरकरार, उपद्रवियों ने दुकान को लगाई आग

कासगंज में तनाव बरकरार, उपद्रवियों ने दुकान को लगाई आग

कासगंज। उत्तर प्रदेश के कासगंज नगर कोतवाली क्षेत्र में गणतंत्र दिवस पर तिरंगा यात्रा के दौरान दो गुटों के बीच हुई हिंसा के बाद शहर में तनाव बरकरार है और घटना के तीसरे दिन भी रविवार को उपद्रवियों ने एक दुकान को आग लगा दी। जिलाधिकारी आरपी सिंह ने बताया कि बाकरनेर इलाके में उपद्रवियों ने फूलसिंह की ऑटो की दुकान में आग लगा दी। सूचना के बाद आग को बुझा दिया गया। उन्होंने बताया कि शहर में धारा १४४ क़डाई से लागू किया गया है। घटना के बाद से अब तक ८० से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने और शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है। अधिकारी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। कासगंज में अफवाहों को रोकने के लिए इंटरनेट सेवा को रविवार रात तक के लिए बंद कर रखा है। जिले की सीमा सील है और किसी बाहरी व्यक्ति को शहर में आने की इजाजत नहीं है। शहर में तनाव अभी भी बरकरार है।गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस पर कोतवाली क्षेत्र में तिरंगा यात्रा के दौरान बिलराम गेट पर समुदाय विशेष के लोगों में पथराव और फायरिंग के दौरान गोली लगने से एक युवक की मृत्यु हो गई थी तथा एक घायल हो गया था। घटना के बाद दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने आ गए थे। इस दौरान कुछ अवांछनीय तत्वों ने आगजनी और तो़डफो़ड भी की थी। शनिवार को भी कई दुकानों और बसों को आग लगा दी गई थी।उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि कासगंज में स्थिति अब नियंत्रण में है और हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं। सिंह ने कहा कि पिछले कुछ घंटे में शहर में किसी ब़डी घटना सामने नहीं आई है। कुछ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। शहर में पुलिस गश्त बढा दी गई है। कासगंज में कानून व्यवस्था बनाए रखना पुलिस की प्राथमिकता है। पुलिस इस दिशा में सही काम कर रही है और यही कारण है कि पिछले कुछ घंटो में किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। इस बीच अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने कहा कि घटना के लिए जिम्मेदार दोषियों के खिलाफ रासुका (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) के तहत कार्रवाई की जाएगी। कुमार ने कहा कि उपद्रवियों पर ड्रोन कैमरों की मदद से नजर रखी जा रही हैं। उपद्रवियों को चिन्हित किया जा रहा है। पुलिस सभी उपद्रवियों पर रासुका के तहत क़डी कार्रवाई करेगी। पुलिस ने अभी तक हिंसा फैलाने के आरोप में ८० आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास चल रहे हैं।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

हेलीकॉप्टर हादसे में ईरान के राष्ट्रपति का निधन हेलीकॉप्टर हादसे में ईरान के राष्ट्रपति का निधन
तेहरान/दक्षिण भारत। ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का हेलीकॉप्टर हादसे में निधन हो गया। तेहरान टाइम्स की एक रिपोर्ट के...
आज लोकसभा चुनाव के 5वें चरण का मतदान, अब तक डाले गए इतने वोट
मंदिर: एक वरदान
उप्र: रैली को बिना संबोधित किए ही लौटे राहुल और अखिलेश, यह थी वजह
कांग्रेस-तृणकां एक ही सिक्के के दो पहलू, बंगाल में एक-दूसरे को गाली, दिल्ली में दोस्ती: मोदी
कांग्रेस-सपा ने अनुच्छेद-370 को 70 साल तक संभाल कर रखा, जिससे आतंकवाद बढ़ा: शाह
मोदी और भाजपा ने 'आप' को कुचलने के लिए ‘ऑपरेशन झाड़ू’ शुरू किया है: केजरीवाल