थरूर ने सुमित्रा महाजन के बारे में यह क्या ट्वीट कर दिया! विजयवर्गीय के जवाब के बाद मानी गलती

थरूर ने सुमित्रा महाजन के बारे में यह क्या ट्वीट कर दिया! विजयवर्गीय के जवाब के बाद मानी गलती

थरूर ने सुमित्रा महाजन के बारे में यह क्या ट्वीट कर दिया! विजयवर्गीय के जवाब के बाद मानी गलती

फोटो स्रोत: शशि थरूर फेसबुक पेज।

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने जल्दबाजी में ट्वीट कर एक बार फिर किरकिरी करा ली। उन्होंने पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के निधन की खबर ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दे दी, जबकि महाजन सकुशल हैं। बाद में उन्हें हकीकत मालूम हुई तो ट्वीट हटा दिया। तब तक यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी थी और यूजर्स ने थरूर को नसीहत दी कि वे ‘सबसे आगे’ होने की कोशिश में हकीकत को भूलते हुए जल्दबाजी नहीं करें।

शशि थरूर ने ट्वीट किया था, ‘पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजनजी हमारे बीच नहीं रहीं। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें।’ उनके इस ट्वीट के बाद भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया और बताया कि सुमित्रा महाजन सकुशल हैं। उन्होंने कहा कि ‘ताई एकदम स्वस्थ हैं, भगवान उन्हें लंबी उम्र दे।’

अपनी गलती का अहसास होने पर शशि थरूर ने रिप्लाई किया और बताया कि उन्होंने उक्त ट्वीट हटा दिया है। उन्होंने माफी मांगते हुए इस गलती के लिए उन लोगों को जिम्मेदार ठहराया जो झूठी खबरें फैलाते हैं। उन्होंने भूल स्वीकार करते हुए कहा, ‘मेरी शुभकामनाएं सुमित्राजी के साथ हैं। भगवान उन्हें लंबी उम्र दें और स्वस्थ रखें।’

गौरतलब है कि शशि थरूर पिछले दिनों जल्दबाजी में ट्वीट कर यूजर्स के निशाने पर आ गए थे। उन्होंने बांग्लादेश दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यह संकेत कहते हुए आलोचना की थी कि इस पड़ोसी देश की आज़ादी में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का महत्वपूर्ण योगदान था, जबकि मोदी ने उनका उल्लेख नहीं किया।

हालांकि मोदी ने इंदिरा गांधी का उल्लेख किया था, लेकिन थरूर ‘पक्के कांग्रेसी’ होने का सबूत देते हुए मोदी को सबसे पहले घेरने का मौका हाथ से नहीं जाने देते थे। बाद में हकीकत सामने आई तो काफी किरकिरी हुई और थरूर को गलती स्वीकार करनी पड़ी।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

मोदी का रॉक मेमोरियल दौरा: भाजपा बोली- 'विपक्ष घबराया हुआ, उसे हार का डर' मोदी का रॉक मेमोरियल दौरा: भाजपा बोली- 'विपक्ष घबराया हुआ, उसे हार का डर'
इस स्थान पर महान संत एवं दार्शनिक स्वामी विवेकानंदजी ने ध्यान लगाया था
धरती की परवाह किसे?
'भारतीय भाषाएं और एक भाषायी क्षेत्र के रूप में भारत' विषय पर सम्मेलन का उद्घाटन किया
मैसूरु: दपरे महाप्रबंधक ने मैसूरु रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास कार्यों का निरीक्षण किया
राहुल गांधी 4 जून को ईवीएम पर ठीकरा फोड़ेंगे, 6 जून को छुट्टी मनाने थाईलैंड चले जाएंगे: शाह
प्रज्ज्वल मामला: सीएन अश्वत्थ नारायण बोले- इस एसआईटी से सच्चाई सामने लाने की उम्मीद नहीं
तृणकां और इंडि जमात वाले बंगाल को विपरीत दिशा में लेकर जा रहे हैं: मोदी