भाजपा ने महाराष्ट्र में खड़से की जगह बेटी को बनाया उम्मीदवार, तावड़े का भी टिकट कटा

भाजपा ने महाराष्ट्र में खड़से की जगह बेटी को बनाया उम्मीदवार, तावड़े का भी टिकट कटा

रोहिणी खड़से

नई दिल्ली/भाषा। भाजपा ने 21 अक्टूबर को होने वाले महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए सात उम्मीदवारों की चौथी सूची शुक्रवार को जारी कर दी जिसमें वरिष्ठ नेता एकनाथ खड़से और कैबिनेट मंत्री विनोद तावड़े का टिकट काट दिया है।

पार्टी ने उत्तर महाराष्ट्र में मुक्ताईनगर विधानसभा सीट से एकनाथ खड़से की बेटी रोहिणी को टिकट दिया है। रोहिणी खड़से को खड़ा करने का फैसला यह दिखाता है कि पार्टी उनके पिता को शांत करने में सफल हो गई है। वे 1991 से मुक्ताईनगर सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, वरिष्ठ नेता प्रकाश मेहता और राज पुरोहित का नाम भी सूची में शामिल नहीं है। पार्टी ने तावड़े का टिकट भी काट दिया जो भाजपा के नेतृत्व वाली निवर्तमान सरकार में स्कूल शिक्षा मंत्री हैं। उनके बजाय मुंबई में उनकी बोरीवली सीट से सुनील राणे को उम्मीदवार बनाया गया है।

दक्षिण मुंबई में कोलाबा से मौजूदा विधायक पुरोहित के स्थान पर राहुल नार्वेकर को टिकट दी गई है। नार्वेकर महाराष्ट्र विधान परिषद के प्रमुख रामराजे निम्बलकर के दामाद हैं। पूर्व राकांपा विधान पार्षद नार्वेकर हाल ही में भाजपा में शामिल हो गए।

वहीं, पूर्व मंत्री मेहता के स्थान पर पराग शाह को मुंबई में घाटकोपर (पूर्व) से उम्मीदवार बनाया गया है। बावनकुले नागपुर जिले में कामटी से मौजूदा विधायक हैं। एकनाथ खड़से महाराष्ट्र में सबसे वरिष्ठ नेताओं में से एक हैं लेकिन देवेंद्र फड़णवीस सरकार में मंत्री रहते हुए अनियमितताओं के आरोपों के बाद से वो हाशिये पर चल रहे थे।

उन्हें 2016 में राजस्व मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था और उन्हें फडणवीस ने मंत्रिमंडल में वापस भी नहीं लिया। पार्टी सूत्रों ने बताया कि खड़से को यह साफ बता दिया गया है कि उन्हें इस बार टिकट नहीं दिया जाएगा।

खड़से (67) ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर इस सप्ताह मुक्ताईनगर सीट से नामांकन पत्र दाखिल किया। भाजपा ने 288 सदस्यीय विधानसभा के लिए अभी तक 150 सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है।

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन में भाजपा और शिवसेना अहम घटक दल हैं। राज्य में 21 अक्टूबर को चुनाव होने हैं। शिवसेना ने 100 से अधिक उम्मीदवारों को नामांकन पत्र दिए हैं। विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख चार अक्टूबर है जबकि पांच अक्टूबर को इनकी जांच होगी। नामांकन सात अक्टूबर तक वापस लिया जा सकता है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने भ्रष्टाचार में पीएचडी कर ली: मोदी ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने भ्रष्टाचार में पीएचडी कर ली: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि अब कांग्रेस के साथ एक और 'भ्रष्टाचारी पार्टी' जुड़ गई है
मोदी का रॉक मेमोरियल दौरा: भाजपा बोली- 'विपक्ष घबराया हुआ, उसे हार का डर'
धरती की परवाह किसे?
'भारतीय भाषाएं और एक भाषायी क्षेत्र के रूप में भारत' विषय पर सम्मेलन का उद्घाटन किया
मैसूरु: दपरे महाप्रबंधक ने मैसूरु रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास कार्यों का निरीक्षण किया
राहुल गांधी 4 जून को ईवीएम पर ठीकरा फोड़ेंगे, 6 जून को छुट्टी मनाने थाईलैंड चले जाएंगे: शाह
प्रज्ज्वल मामला: सीएन अश्वत्थ नारायण बोले- इस एसआईटी से सच्चाई सामने लाने की उम्मीद नहीं