जयराम रमेश की नसीहत- हर समय मोदी को खलनायक की तरह पेश करने से कुछ हासिल नहीं होगा

जयराम रमेश की नसीहत- हर समय मोदी को खलनायक की तरह पेश करने से कुछ हासिल नहीं होगा

जयराम रमेश

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हर समय खलनायक की तरह पेश करते रहने से कुछ हासिल नहीं होने वाला है। उन्होंने कहा कि मोदी शासन का मॉडल पूरी तरह से नकारात्मक गाथा नहीं है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने चौंकाने वाला बयान देते हुए कहा कि मोदी के काम के महत्व को स्वीकार नहीं करने से कुछ भी हासिल नहीं होगा।

जयराम रमेश ने इस बात पर जोर दिया कि मोदी ने साल 2014 से 2019 के बीच जो कार्य किए, उसके महत्व को समझा जाए, जिनकी वजह से उन्होंने सत्ता में वापसी की। जयराम रमेश ने कहा कि मोदी के कार्यों की वजह से ही उन्हें 30 प्रतिशत मतदाता पुन: सत्ता में लेकर आए हैं।

जयराम रमेश के इस बयान पर सोशल मीडिया में भी काफी हैरानी है। कांग्रेस की नीतियों का पुरजोर समर्थन करने वाले जयराम रमेश जब मोदी की तारीफ करते नजर आए तो सोशल मीडिया में यूजर्स ने कई मीम्स शेयर किए।

जनता कर रही मोदी की प्रशंसा
जयराम नरेश ने बुधवार को राजनीतिक विश्लेषक कपिल सतीश कोमीरेड्डी की पुस्तक के विमोचन समारोह में शिरकत की थी। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री की तारीफ की। उन्होंने कहा कि मोदी ऐसी भाषा में बात करते हैं, जो उन्हें लोगों से जोड़ती है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि जब तक हम यह न मान लें कि वे (मोदी) ऐसे काम कर रहे हैं, जिनकी जनता प्रशंसा कर रही है और जो पहले नहीं किए गए, तब तक हम इस व्यक्ति का मुकाबला नहीं कर पाएंगे।

.. तो नहीं कर पाएंगे मुकाबला
इस दौरान उन्होंने मोदी के विजयरथ को रोककर कांग्रेस की फतेह का ‘मंत्र’ भी बताया। जयराम रमेश ने कहा कि अगर आप हर समय उन्हें (मोदी) खलनायक की तरह पेश करने जा रहे हैं तो आप उनका मुकाबला नहीं कर पाएंगे।

योजनाओं ने लोगों से जोड़ा
जयराम नरेश ने कहा कि वे किसी से यह नहीं कह रहे कि वह मोदी की तारीफ करे। उन्होंने कहा कि राजनीतिक वर्ग कम से कम उन बातों को माने, जिन्हें मोदी अपने शासन में लेकर आए हैं। इस संबंध में उन्होंने ‘शासन के अर्थशास्त्र’ का उल्लेख किया। उन्होंने प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना (पीएमयूजे) का उदाहरण देते हुए कहा कि साल 2019 में हमने उनकी एक या दो योजनाओं का मजाक उड़ाया, लेकिन चुनावी अध्ययनों में यह बात सामने आई कि पीएमयूजे अकेली ऐसी योजना रही, जो उन्हें करोड़ों महिलाओं से जोड़ पाई।

जनता नहीं मानती प्रधानमंत्री को जिम्मेदार
जयराम नरेश ने कहा कि देश की जनता वर्तमान परिस्थितियों को मोदी की उपस्थिति से जोड़कर नहीं देख रही। उन्होंने इसके लिए उदाहरण देते हुए कहा कि चुनाव अभियान में हमने किसानों की हालत को लेकर बात की। इस पर लोगों ने भी माना कि किसान संकट में है, लेकिन उन्होंने इसके लिए मोदी को जिम्मेदार नहीं ठहराया। कांग्रेस नेता ने कहा कि यह आपको समझना होगा कि मोदी कैसे इतने सम्माननीय बने। उन्होंने कहा कि पिछले दशक में ऐसा कुछ हुआ, जिसने मोदी को राष्ट्रीय राजनीति में एक मामूली नेता से ऐसा व्यक्ति बना दिया, जो लगातार चुनाव जीतने में कामयाब रहा।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा
नड्डा ने कहा कि लालू यादव, तेजस्वी और राहुल गांधी कहते थे कि भारत तो अनपढ़ देश है, गांव में...
राजकोट: गेमिंग जोन में आग मामले में अब तक पुलिस ने क्या कार्रवाई की?
पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह
जैन मिशन अस्पताल द्वारा महिलाओं के लिए निःशुल्क सर्वाइकल कैंसर और स्तन जांच शिविर 17 जून तक
राजकोट: गुजरात उच्च न्यायालय ने अग्निकांड का स्वत: संज्ञान लिया, इसे मानव निर्मित आपदा बताया
इंडि गठबंधन वालों को देश 'अच्छी तरह' जान गया है: मोदी
चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर