मुझे प्रधानमंत्री नहीं मानकर संविधान का अपमान कर रही हैं ममता: मोदी

मुझे प्रधानमंत्री नहीं मानकर संविधान का अपमान कर रही हैं ममता: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

बांकुड़ा (प. बंगाल)/भाषा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी यह कहकर संविधान का अपमान कर रही हैं कि वह मुझे देश के प्रधानमंत्री के रूप में स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं।

मोदी ने यहां एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, दीदी (ममता बनर्जी) सार्वजनिक रूप से कहती हैं कि वह देश के प्रधानमंत्री को शासनाध्यक्ष स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं लेकिन वह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को मान्यता देने में गर्व महसूस करती हैं।

उन्होंने कहा कि ममता आम चुनाव में हार की चिंता के कारण संविधान का अपमान कर रही हैं। प्रधानमंत्री ने चक्रवात फोनी पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री से संपर्क करने की कोशिश की थी, लेकिन उनकी कॉल का जवाब नहीं दिए जाने के कारण वह ममता से बात नहीं कर पाए।

ममता ने एक रैली में मोदी को ‘एक्सपायरी प्रधानमंत्री’ बताते हुए कहा था कि वह नरेंद्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री नहीं मानतीं और वह चुनाव परिणाम के बाद नए प्रधानमंत्री से बात करेंगी।

मोदी ने यहां एक रैली में कहा, उन्होंने चक्रवात के दौरान मेरे फोन कॉल का जवाब नहीं दिया। केंद्र सरकार हालात पर चर्चा के लिए राज्य के अधिकारियों के साथ बैठक करना चाहती थी, लेकिन दीदी ने इसकी भी अनुमति नहीं दी।

प्रधानमंत्री ने कहा, राज्य को बेहतर बनाने में उनकी कोई रुचि नहीं है, उनकी रुचि अपने परिवार और अपनी पार्टी के टोलाबाजों की बेहतरी में है।

मोदी ने कहा कि दीदी मेरे खिलाफ जिस तरह की भाषा इस्तेमाल कर रही हैं, उससे उनकी चिंता झलक रही है। वह अब मेरे लिए पत्थर एवं थप्पड़ की बात कर रही हैं। उन्होंने कहा, मैं अपशब्दों का आदी हो गया हूं। मुझे दुनिया भर के शब्दकोषों के अपशब्दों को पचाना आ गया है।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि सपा सरकार में माफिया गरीबों की जमीनों पर कब्जा करता था
केजरीवाल का शाह से सवाल- क्या दिल्ली के लोग पाकिस्तानी हैं?
किसी युवा को परिवार छोड़कर अन्य राज्य में न जाना पड़े, ऐसा ओडिशा बनाना चाहते हैं: शाह
बेंगलूरु हवाईअड्डे ने वाहन प्रवेश शुल्क संबंधी फैसला वापस लिया
जो काम 10 वर्षों में हुआ, उससे ज्यादा अगले पांच वर्षों में होगा: मोदी
रईसी के बाद ईरान की बागडोर संभालने वाले मोखबर कौन हैं, कब तक पद पर रहेंगे?
'न चुनाव प्रचार किया, न वोट डाला' ... भाजपा ने इन वरिष्ठ नेता को दिया 'कारण बताओ' नोटिस