इस लोकसभा चुनाव में भी राजनीति में लग रहा है ग्लैमर का तड़का

इस लोकसभा चुनाव में भी राजनीति में लग रहा है ग्लैमर का तड़का

राजनेता जिन पर विभिन्न दलों ने लगाया दांव

नई दिल्ली/भाषा। सिनेमा और राजनीति का रिश्ता 2019 के लोकसभा चुनावों में एक बार फिर से मजबूत हुआ है जहां बॉलीवुड के कई कलाकार प्रचारकों, उम्मीदवारों के रूप में किसी न किसी रूप से जुड़े हुए हैं। राजनीति में ग्लैमर का तड़का हाल में बॉलीवुड के एक्शन हीरो सनी देओल के भाजपा में शामिल होने से लगा है। देओल पंजाब के गुरदासपुर से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे।

अपने पिता धर्मेन्द्र के पदचिह्नों पर चलते हुए देओल ने भी इस बार राजनीति में कदम रखा। धर्मेन्द्र 2004 से 2009 के बीच बीकानेर से भाजपा सांसद रहे थे। दिल्लगी में उनके साथ काम कर चुकी उर्मिला मातोंडकर मुंबई उत्तर से कांग्रेस उम्मीदवार हैं और उनकी सौतेली मां हेमामालिनी मथुरा से भाजपा की सांसद हैं, जो एक बार फिर इसी संसदीय सीट से चुनाव लड़ रही हैं।

कई अन्य कलाकार जो चुनाव तो नहीं लड़ रहे हैं लेकिन उनकी मौजूदगी महसूस की जा सकती है। अक्षय कुमार ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गैर राजनीतिक साक्षात्कार कर हलचल मचा दी। मोदी द्वारा मतदाताओं में जागरूकता बढ़ाने की अपील करने के बाद शाहरूख खान ने भी लोगों से वोट करने का संदेश दिया। भाजपा ने जयाप्रदा को रामपुर से लोकसभा का टिकट दिया है जबकि कांग्रेस ने पटना साहिब से शत्रुघ्न सिन्हा को मैदान में उतारा है।

सिन्हा हाल में भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आ गए। उनकी पत्नी पूनम सिन्हा लखनऊ से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार हैं। राजबब्बर ने 1989 में जनता दल के साथ राजनीति शुरू की थी लेकिन 2006 में वह सपा में शामिल हो गए। दो साल बाद वह कांग्रेस में आ गए और अब उत्तरप्रदेश में पार्टी के प्रमुख हैं। भोजपुर के स्टार रविकिशन कांग्रेस से पाला बदलकर भाजपा में शामिल हो गए और अब गोरखपुर से चुनाव लड़ रहे हैं।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

हेलीकॉप्टर हादसे में ईरान के राष्ट्रपति का निधन हेलीकॉप्टर हादसे में ईरान के राष्ट्रपति का निधन
ईरानी समाचार-पत्र Tehran Times के प्रथम पृष्ठ पर छपा राष्ट्रपति रईसी का चित्र। उसने इस घटना को 'कर्तव्य के मार्ग...
आज लोकसभा चुनाव के 5वें चरण का मतदान, अब तक डाले गए इतने वोट
मंदिर: एक वरदान
उप्र: रैली को बिना संबोधित किए ही लौटे राहुल और अखिलेश, यह थी वजह
कांग्रेस-तृणकां एक ही सिक्के के दो पहलू, बंगाल में एक-दूसरे को गाली, दिल्ली में दोस्ती: मोदी
कांग्रेस-सपा ने अनुच्छेद-370 को 70 साल तक संभाल कर रखा, जिससे आतंकवाद बढ़ा: शाह
मोदी और भाजपा ने 'आप' को कुचलने के लिए ‘ऑपरेशन झाड़ू’ शुरू किया है: केजरीवाल