नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के गुजरात में चुनाव प्रचार के तरीकों पर कटाक्ष करते हुए आज कहा कि प्रभु के दर्शन से ही वोट नहीं मिलता। प्रसाद ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि गांधी जिस तरह से गुजरात के मंदिरों में जा रहे हैं और भगवान की आरती कर रहे हैं यह अच्छी बात हैं लेकिन भगवान के दर्शन से ही वोट नहीं मिलता है। वोट काम से मिलता है। केन्द्र और राज्यों में भाजपा की सरकारें जनादेश से बनी है। भाजपा नेता ने कांग्रेस के नेतृत्व के स्तर पर भ्रष्टाचार से प्रभावित होने का आरोप लगाते हुए सवाल किया कि क्या कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी या राहुल गांधी ने भ्रष्टाचार को नियंत्रित करने के लिए कोई प्रयास किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भ्रष्टाचार को सुनियोजित तरीके से आगे बढाया और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के शासन के दौरान ’’पंचतत्व’’ घोटाला हुआ। प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस नेता ओमन चांडी पर सोलर घोटाला में लिप्त होने के आरोप हैं जिसकी व्यापक जांच कराई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि चांडी ने ही सोलर घोटाले की जांच के लिए न्यायमूर्ति जी शिवराजन आयोग का गठन किया था और उसी ने चांडी को भ्रष्टाचार का दोषी पाया है।उन्होंने कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव की घोषणा नहीं करने के लिए चुनाव आयोग की आलोचना नहीं की जानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

16 − four =