अफगानिस्तान: नमाज के दौरान बम धमाका; 19 लोगों की मौत, 20 से ज्यादा घायल

ऐबक ऐतिहासिक शहर है

अफगानिस्तान: नमाज के दौरान बम धमाका; 19 लोगों की मौत, 20 से ज्यादा घायल

यह राजधानी काबुल से लगभग 200 किमी दूर उत्तर में स्थित है

काबुल/दक्षिण भारत। अफगानिस्तान के समांगन स्थित ऐबक शहर में बुधवार को दोपहर की नमाज के दौरान जहदिया मदरसे में बम धमाका हुआ। प्रांतीय सूचना एवं संस्कृति विभाग ने पुष्टि की कि 19 लोगों की मौत हुई है और 20 से ज्यादा घायल हुए हैं।

इससे पहले, प्रांतीय अस्पताल के एक डॉक्टर ने टोलो न्यूज को बताया कि कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई और 27 घायल अस्पताल में भर्ती हैं। स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि धमाका दोपहर की नमाज के दौरान हुआ।

ये पंक्तियां लिखे जाने तक किसी ने धमाके की जिम्मेदारी नहीं ली थी। मारे गए लोगों में बच्चे और आम नागरिक हैं। गंभीर रूप से घायल कुछ पीड़ितों को बेहतर इलाज के लिए लगभग 120 किलोमीटर दूर मजार-ए-शरीफ के बड़े अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। 

आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुल नफी तक्कुर ने कहा कि तालिबान के सुरक्षा बल हमले की जांच कर रहे हैं। उन्होंने अपराधियों की पहचान करने और उनके कार्यों के लिए दंडित करने का संकल्प लिया है।

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने एक ट्वीट में धमाके को मानवता के खिलाफ अपराध कहा और पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी सहानुभूति जताई।

ऐबक ऐतिहासिक शहर है, जो चौथी और पांचवीं शताब्दी में व्यापारिक और बौद्ध धर्म के केंद्र के रूप में प्रसिद्ध था। यह राजधानी काबुल से लगभग 200 किमी दूर उत्तर में स्थित है।

तालिबान द्वारा पिछले साल सत्ता पर कब्जा करने के बाद से अफगानिस्तान में दर्जनों बड़े धमाके हो चुके हैं। इनमें से ज्यादातर धमाकों में इस्लामिक स्टेट समूह के स्थानीय संस्करण इस्लामिक स्टेट-खुरासान का नाम आया है।

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement

Latest News

सेना ने ‘अग्निवीर’ भर्ती प्रक्रिया में किया यह बड़ा बदलाव सेना ने ‘अग्निवीर’ भर्ती प्रक्रिया में किया यह बड़ा बदलाव
उम्मीदवारों को शारीरिक रूप से चुस्त-दुरुस्त होने (फिजिकल फिटनेस) संबंधी परीक्षण और मेडिकल जांच से गुजरना होगा
कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भाजपा अपने काम के बल पर करेगी सत्ता में वापसी: येडियुरप्पा
मोदी सरकार ने गरीब, आदिवासी और पिछड़ों के हित को हमेशा वरीयता दी: शाह
पाकिस्तान ने विकिपीडिया पर प्रतिबंध लगाया
कर्नाटक में मतदाताओं को रिझाने के लिए बांटे जा रहे प्रेशर कुकर, डिनर सेट!
बिहार: एनआईए की कार्रवाई, पीएफआई के 3 संदिग्ध सदस्य गिरफ्तार
भाजपा ने धर्मेंद्र प्रधान को कर्नाटक के लिए पार्टी का चुनाव प्रभारी नियुक्त किया