योगी ने अधिकारियों को नकलविहीन परीक्षा के संबंध में दिए निर्देश

योगी ने अधिकारियों को नकलविहीन परीक्षा के संबंध में दिए निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छह फरवरी से शुरु हो रही माध्यमिक शिक्षा परिषद की परीक्षाओं को हर हाल में नकलविहीन कराने का आदेश देते हुए कहा कि कानून-व्यवस्था से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। योगी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों और जिला विद्यालय निरीक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि हाईस्कूल और इण्टर की परीक्षा में नकल बर्दास्त नहीं की जाएगी। उनकी सरकार छात्रों के भविष्य से खिलवा़ड करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार नकल विहीन परीक्षा चाहती है इसलिए समय से पहले तैयारियां पूरी हो जानी चाहिए।उन्होंने कहा कि दागी केन्द्रों को परीक्षा से बाहर रखा जाए। सभी केन्द्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की व्यवस्था के साथ ही, परीक्षा कक्षों में फर्नीचर की ठीक-ठाक व्यवस्था की जाए। परीक्षा केन्द्र के चयन में जिन लोगों की भूमिका रहती है, वे अपने दायित्वों का निर्वहन ठीक से करें अन्यथा सरकार द्वारा उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई करेगी। योगी ने कहा कि परीक्षा केन्द्रों पर विद्युत की सुचारू आपूर्ति सुनिश्चित करते हुए बैकअप के लिए जेनरेटर की भी व्यवस्था की जाए। परीक्षा से पहले केन्द्र के बाहर ही छात्र-छात्राओं की चेकिंग की जाए। छात्राओं की चेकिंग सिर्फ महिला कक्ष निरीक्षकों, अध्यापिकाओं द्वारा ही की जाए। चेकिंग के नाम पर छात्र-छात्राओं को अनावश्यक परेशान न किया जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि परीक्षा केन्द्र के अन्दर नकल की सामग्री, मोबाइल इत्यादि न पहुंचे। कॉलेज प्रबंधन के लोग परीक्षा केन्द्र से २०० मीटर की परिधि से दूर रहें। मुख्यमंत्री ने कहा कि नकलविहीन परीक्षा सुनिश्चित कराने की सामूहिक जिम्मेदारी जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों तथा जिला विद्यालय निरीक्षकों की होगी। नकल की शिकायत मिलने पर जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News