डीआरए होम्स चेन्नई में 2,000 करोड़ रुपए की नई परियोजनाएं लॉन्च करेगा

कंपनी 50 लाख रुपए से लेकर 2 करोड़ रुपए तक के मध्य खंड पर ध्यान केंद्रित करेगी

डीआरए होम्स चेन्नई में 2,000 करोड़ रुपए की नई परियोजनाएं लॉन्च करेगा

Photo: DRA HOMES

चेन्नई/दक्षिण भारत। चेन्नई के अग्रणी रियल एस्टेट डेवलपर डीआरए होम्स ने वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए 2,000 करोड़ रुपए की रणनीतिक निवेश योजना की घोषणा की है।

अपनी विस्तार रणनीति के हिस्से के रूप में, डीआरए होम्स ने 500 करोड़ रुपए का निवेश किया है, जिससे चेन्नई के रियल एस्टेट परिदृश्य के विकास और वृद्धि को लेकर उसकी प्रतिबद्धता और बाजार में स्थिति मजबूत हुई है।

डीआरए होम्स ने मार्च 2024 तक 2,000 करोड़ रुपए की कुल इन्वेंट्री के साथ नई परियोजनाएं शुरू करने की योजना बनाई है, जिससे इसकी वृद्धि की गति को बनाए रखने के लिए एक स्थिति सुनिश्चित होगी।

कंपनी 50 लाख रुपए से लेकर 2 करोड़ रुपए तक के मध्य खंड पर ध्यान केंद्रित करेगी और वित्तीय वर्ष 2024-25 से अपनी बिक्री योजना के हिस्से के रूप में वाणिज्यिक विकास, विला और लेआउट स्टॉक भी पेश करेगी।

कंपनी अगले तीन से चार महीनों में करनई, मदंबक्कम, माधवरम, मूलकदाई, एग्मोर, ओएमआर जैसे क्षेत्रों में कई विला और अपार्टमेंट परियोजनाएं शुरू करने की योजना बना रही है, जिनका कुल बिक्री योग्य क्षेत्र 1.2 मिलियन वर्ग फीट और अनुमानित कारोबार 750 करोड़ रुपए है।

डीआरए होम्स के प्रबंध निदेशक रंजीत राठौड़ ने कहा, 'हम अपनी महत्वाकांक्षी निवेश योजना की घोषणा करते हुए रोमांचित हैं। यह चेन्नई के रियल एस्टेट बाजार की विकास क्षमता में हमारे विश्वास और विश्व स्तरीय परियोजनाओं को वितरित करने की हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

उन्होंने कहा, 'हमारा मानना है कि साल 2023 में रिकॉर्ड 10.6 मिलियन वर्ग फुट वाणिज्यिक समावेशन के बाद चेन्नई बाजार इस साल मजबूत वाणिज्यिक और आवासीय मांग के बिंदु पर पहुंच गया है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ममता सरकार को बड़ा झटका, एसएलएसटी की चयन प्रक्रिया को उच्च न्यायालय ने अमान्य घोषित किया ममता सरकार को बड़ा झटका, एसएलएसटी की चयन प्रक्रिया को उच्च न्यायालय ने अमान्य घोषित किया
कोलकाता/दक्षिण भारत। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने सोमवार को पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा प्रायोजित और सहायता प्राप्त स्कूलों में राज्य स्तरीय...
गाजीपुर लैंडफिल में आग 'आप' के 'भ्रष्टाचार' का उदाहरण: दिल्ली भाजपा अध्यक्ष
केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे क्या अपनी सीट आसानी से निकाल लेंगी?
यह उदासीनता क्यों?
हुब्बली में नड्डा की हुंकार- खोखले नारों का सहारा नहीं लेते, मोदी की गारंटी पर है लोगों का विश्वास
हुब्बली: नेहा की हत्या के विरोध में मुस्लिम संगठनों ने किया बंद का आह्वान
कर्नाटक: सोमनायक्कनपट्टी-बेंगलूरु सेक्शन का रियर विंडो निरीक्षण किया