'अगर हमारी वापसी एक दिन के लिए भी स्थगित होती तो युद्ध क्षेत्र में फंस जाते'

इजराइल से लौटे केरल के श्रद्धालु, भारतीय दूतावास का आभार व्यक्त किया

'अगर हमारी वापसी एक दिन के लिए भी स्थगित होती तो युद्ध क्षेत्र में फंस जाते'

फोटो: इराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के ट्विटर अकाउंट से

कोच्चि/भाषा। इजराइल पर फलस्तीन के आतंकवादी संगठन हमास की ओर से हमला किए जाने के बीच सात अक्टूबर को वहां फंसे केरल के श्रद्धालुओं का एक दल सुरक्षित भारत लौट आया है। इस दल ने युद्ध क्षेत्र से उसे सुरक्षित निकालने के लिए भारतीय दूतावास के तत्काल हस्तक्षेप करने के वास्ते उसका आभार व्यक्त किया है।

इस समूह में शामिल श्रद्धालु मौलवी ने मलयालम समाचार चैनल से बातचीत में बृहस्पतिवार को बताया कि हमास के हमले के बीच उनकी वक्त रहते केरल वापसी भारतीय दूतावास के अधिकारियों के त्वरित और प्रभावी हस्तक्षेप से संभव हुई।

उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा, ‘अगर हमारी वापसी की यात्रा एक दिन के लिए भी स्थगित होती तो हम युद्ध क्षेत्र में फंस जाते ... खैर अब हम घर आ गए हैं।’

मौलवी और उनकी पत्नी 45 सदस्यीय उस समूह का हिस्सा थे, जो तीर्थ यात्रा पर इजराइल गए थे। तीर्थयात्रियों का समूह बृहस्पतिवार सुबह यहां अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंच गया।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अफ़ग़ान 'लड़ाका समूह' ने बोला धावा, पाकिस्तान के 8 जवानों को उड़ाया! अफ़ग़ान 'लड़ाका समूह' ने बोला धावा, पाकिस्तान के 8 जवानों को उड़ाया!
Photo: ISPROfficial1 FB page
बेंगलूरु यातायात पुलिस ने हवाईअड्डा रोड पर लेन अनुशासन अभियान शुरू किया
कांग्रेस ने हरियाणा को जातिवाद और भ्रष्टाचार के सिवा कुछ नहीं दिया: शाह
बेंगलूरु: आईआईएमबी में 'लक्ष्य 2के24' में कई महत्त्वपूर्ण विषयों पर हुई चर्चा
केरल सरकार 100 दिनों में 13,013 करोड़ रु. की परियोजनाएं लागू करेगी: विजयन
भाजपा की गलत नीतियों का खामियाज़ा हमारे जवान और उनके परिवार भुगत रहे हैं: राहुल गांधी
बिहार: विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी के पिता की हत्या हुई