‘घोस्ट स्टोरीज’ में घिसी-पिटी भुतहा कहानी नहीं दिखेगी: जोया अख्तर

‘घोस्ट स्टोरीज’ में घिसी-पिटी भुतहा कहानी नहीं दिखेगी: जोया अख्तर

जोया अख्तर

मुंबई/भाषा। फिल्म निर्देशक जोया अख्तर ने कहा कि जब उन्होंने ‘घोस्ट स्टोरीज’ पर काम करना शुरू किया तो उनके दिमाग में एक बात साफ थी कि वह घिसी-पिटी भुतहा कहानी नहीं दिखाएंगी बल्कि ऐसी कहानी दिखाएंगी जो सच में लोगों को डराए।

जोया की इस लघु कहानी में जाह्नवी कपूर एक घर में नर्स की भूमिका निभा रही हैं जिसे एक बुजुर्ग महिला की देखभाल का जिम्मा दिया जाता है। इस बुजुर्ग महिला का किरदार अनुभवी अभिनेत्री सुरेखा सीकरी ने निभाया है।

जोया ने कहा कि वे अपनी कहानी को विषय पर आधारित बनाना चाहती थीं जो उनके खुद के डर को दिखाए। एक साक्षात्कार में जोया ने कहा, यह उम्रदराज होने का डर, अकेलेपन और मौत का डर है। भूत-प्रेत या असाधारण घटना वाली कोई भी कहानी इंसान का असली डर है।

‘गली ब्वॉय’ की निर्देशक ने कहा, मैं ऐसी कहानी करना चाहती थी जिससे मैं जुड़ सकूं। मैं कई लोगों से मिली लेकिन लेखिका इंशिया मिर्जा ने समझा कि मैं क्या चाहती हूं।

जोया ने कहा, उन्होंने मुझे एक नर्स और इलाज के लिए जरूरतमंद एक बुजुर्ग महिला की कहानी सुझाई। मुझे यह पसंद आई। मैं चाहती हूं कि लोग डरने से कहीं ज्यादा इसे महसूस करें। उन्होंने कहा कि जाह्नवी और सुरेखा के बीच उम्र की खाई को देखते हुए उन्हें चुना गया।

उन्होंने कहा, मैं लंबे समय से सुरेखा मैम के साथ काम करना चाहती थी। हमें ‘गली ब्वॉय’ में काम करने का मौका मिलने ही वाला था लेकिन उनकी ‘बधाई हो’ की तारीखों से तालमेल नहीं हो पाया। मैं यह नहीं कह सकती कि यह गलती थी क्योंकि उन्होंने राष्ट्रीय पुरस्कार जीता। मैं जब से कास्टिंग निर्देशक बनी हूं तब से उनका काम देख रही हूं। उन्होंने इसमें जो काम किया है वह शानदार है। नेटफ्लिक्स की ये हॉरर कहानियां एक जनवरी से प्रसारित होंगी।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List