पहली बार पथराव के आरोपियों के केस वापस : महबूबा

पहली बार पथराव के आरोपियों के केस वापस : महबूबा

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने गुरुवार को कश्मीर घाटी में पहली बार पथराव करने के आरोपियों को राहत देते हुए उनके खिलाफ मामले वापस लेने की घोषणा की। केंद्र सरकार ने कश्मीर के लिए नियुक्त वार्ताकार दिनेश्वर शर्मा की सिफारिशों को मानते हुए राज्य सरकार को ऐसा करने की सलाह दी थी। पहली बार पथराव करने वाले तकरीबन ४५०० युवाओं के खिलाफ मामला वापस लेने की केंद्र सरकार की सलाह के अगले दिन आज जम्मू कश्मीर सरकार ने इस निर्णय की घोषणा की। जम्मू की नेशनल पैंथर्स पार्टी ने सरकार के इस कदम की आलोचना की है। यह कदम इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि राज्य में शांति बहाल करने सिलसिले में शर्मा केे दूसरे दौर की वार्ता के ठीक एक दिन पहले यह घोषणा की गयी है। पूर्व आईबी प्रमुख को वार्ताकार नियुक्त किए जाने के बाद इस महीने की शुरुआत में उन्होंने घाटी की पहली यात्रा की लेकिन कारोबारी समुदाय, अलगाव वादियों और सभ्य समाज के अधिकांश लोगों के दूरी के कारण गतिरोध खत्म नहीं कर सके। महबूबा ने ट्वीट किया, ‘पहली बार पथराव करने वाले आरोपियों के खिलाफ दर्ज मामले वापस लेने की प्रक्रिया को पुनः आरंभ से मुझे बहुत संतुष्टि मिलती है। मेरी सरकार ने मई २०१६ में इस प्रक्रिया को शुरू किया था, लेकिन दुर्भाग्यवश उस वर्ष बाद में अशांति के कारण इस प्रक्रिया पर बाधित हो गयी थी।‘ विश्वास बहाली का यह कदम जम्मू-कश्मीर के हालात को बदलने और सतत संवाद के के जरिए फिर से मेलजोल का माहौल बनाने की केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है। उन्होंने कहा, ‘यह उत्साहवर्धक है कि वार्ताकार ने सकारात्मक ़ढंग से शुरुआत की है। उनकी सुझावों को केंद्र और राज्य सरकार गंभीरता से ले रही है।‘

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना
Photo: RailMinIndia FB page
विजयेंद्र बोले- ईश्वरप्पा को भाजपा से निष्कासित किया गया, क्योंकि वे ...
तुष्टीकरण और वोटबैंक की राजनीति कांग्रेस के डीएनए में हैं: मोदी
संदेशखाली में वोटबैंक के लिए ममता दीदी ने गरीब माताओं-बहनों पर अत्याचार होने दिया: शाह
इंडि गठबंधन पर नड्डा का प्रहार- परिवारवादी पार्टियां अपने परिवारों को बचाने में लगी हैं
'सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास डिफॉल्टरों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की शक्ति नहीं'
कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा सुनना भी गुनाह हो जाता है: मोदी