मोदी की अपील- कोरोना को फैलने से रोकें, जिस शहर में हैं, कृपया कुछ दिन वहीं रहिए

मोदी की अपील- कोरोना को फैलने से रोकें, जिस शहर में हैं, कृपया कुछ दिन वहीं रहिए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली/भाषा। भारत में कोरोना वायरस से संक्रमण के 60 और मामलों की पुष्टि होने के साथ शनिवार को यह संख्या बढ़ कर 283 हो गई। इस बीच, कई राज्यों ने इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लोगों की आवाजाही और भीड़भाड़ को सीमित करने के अलावा कई एहतियाती उपायों की घोषणा की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार रात को ट्वीट किया, ‘मेरी सबसे प्रार्थना है कि आप जिस शहर में हैं, कृपया कुछ दिन वहीं रहिए। इससे हम सब इस बीमारी को फैलने से रोक सकते हैं। रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों पर भीड़ लगाकर हम अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। कृपया अपनी और अपने परिवार की चिंता करिए, आवश्यक न हो तो अपने घर से बाहर न निकलिए।’

उन्होंने कहा, ‘कोरोना के भय से मेरे बहुत से भाई-बहन जहां रोजी-रोटी कमाते हैं, उन शहरों को छोड़कर अपने गांवों की ओर लौट रहे हैं। भीड़भाड़ में यात्रा करने से इसके फैलने का खतरा बढ़ता है। आप जहां जा रहे हैं, वहां भी यह लोगों के लिए खतरा बनेगा। आपके गांव और परिवार की मुश्किलें भी बढ़ाएगा।’

बता दें कि देश में रविवार सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को लोगों से सामाजिक मेलजोल से दूर रहने की अपील करते हुए कहा था कि आवश्यक सेवाओं को छोड़ कर अन्य लोग घरों से बाहर नहीं निकलें।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमण के कुल मामलों की संख्या, जिनकी पुष्टि हुई है, 283 हो गई है जिसमें 60 नए मामले शामिल हैं। यह देश में किसी एक दिन में सबसे ज्यादा मामला है। इस आंकड़े में दिल्ली, कर्नाटक, पंजाब और महाराष्ट्र में हुई चार मौतें भी शामिल हैं।

उत्तरप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जयप्रताप सिंह ‘कोविड-19’ की जांच रिपोर्ट में शनिवार को निगेटिव पाए गए। वह उस कार्यक्रम में शामिल थे, जिसमें बॉलीवुड गायिका कनिका कपूर भी थीं और जिनके कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय के प्रवक्ता डॉ. सुधीर सिंह ने कहा कि 66 वर्षीय मंत्री की शुक्रवार को जांच हुई थी जिसके बाद वह खुद ही पृथक हो गए थे। उनके संपर्क में आए 28 लोगों के नमूने भी निगेटिव पाए गए हैं। उत्तरप्रदेश पुलिस ने लापरवाही और खतरनाक रोग फैलाने जैसे कृत्यों के लिए कपूर पर मामला दर्ज किया है। वह लखनऊ में कम से कम तीन पार्टी में शामिल हुई थीं, जिसमें एक पार्टी में नेता भी मौजूद थे।

कपूर की घोषणा के बाद उनके संपर्क में सीधे या परोक्ष रूप से आने वाले लोगों ने खुद को पृथक कर लिया। उनमें भाजपा नेता वसुंधरा राजे, उनके सांसद बेटे दुष्यंत सिंह के अलावा सांसद डेरेक ओ ब्रायन तथा अनुप्रिया पटेल भी शामिल हैं।

बसपा के पूर्व सांसद अकबर अहमद डम्पी ने भी खुद को उत्तराखंड के अपने फार्महाउस में 14 दिनों के लिए पृथक रखने का निर्णय किया है। लखनऊ में उनके हाई प्रोफाइल पार्टी में कपूर शामिल हुई थी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, देश भर में ‘कोविड-19’ के कुल सक्रिय मामले अभी तक 256 हो गए हैं। इसने कहा कि 23 अन्य या तो ठीक हो गए हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है, जबकि चार की मौत हो चुकी हैं

महाराष्ट्र में सबसे अधिक 63 मामले सामने आए हैं जिसमें तीन विदेशी हैं। केरल में 40 मामले सामने आए हैं जिसमें सात विदेशी नागरिक शामिल हैं। दिल्ली में 26 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं जिसमें एक विदेशी नागरिक है जबकि उत्तरप्रदेश में एक विदेशी सहित 24 मामले सामने आए हैं।

तेलंगाना में 21 मामले सामने आए हैं जिसमें 11 विदेशी नागरिक हैं। राजस्थान में दो विदेशियों सहित 17 मामले दर्ज किए गए हैं। हरियाणा में 14 विदेशियों सहित 17 मामले सामने आए हैं। कर्नाटक में कोरोना वायरस के 15 रोगी हैं। पंजाब और लद्दाख में 13-13 मामले, गुजरात में सात और जम्मू-कश्मीर में चार मामले सामने आए हैं।

तमिलनाडु, आंध्रप्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के तीन-तीन मामले, जबकि ओडिशा में दो मामले सामने आए हैं। पुड्डुचेरी, छत्तीसगढ़ और चंडीगढ़ में एक-एक मामला सामने आया है। केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि शनिवार को कोरोना वायरस के 12 और नए मामले सामने आए, जिससे राज्य में इस वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या बढ़ कर 49 हो गई है।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री सी. विजय भास्कर ने कहा कि तीन विदेशी नागरिक निगरानी में हैं और वे पॉजिटिव पाए गए हैं और कुल मामलों की संख्या बढ़कर छह हो गई है। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस से संक्रमित 13 व्यक्ति हैं और इनमें छह नए मामले हैं। कई राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के उद्देश्य से विभिन्न कदमों की घोषणा की है।

छत्तीसगढ़ सरकार ने अपने सभी कार्यालयों को 31 मार्च तक बंद करने के आदेश दिए हैं जिसमें आवश्यक एवं आपात सेवाएं शामिल नहीं हैं। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने पांच जिलों और आठ अन्य महत्वपूर्ण शहरों में रविवार से एक हफ्ते के लिए ‘लगभग पूरी तरह’ बंद की घोषणा की है। इन जिलों और शहरों की पहचान की गई है क्योंकि तीन हजार से अधिक निवासी पिछले कुछ दिनों में विदेशों से इन स्थानों पर लौटे हैं।

गोवा की सरकार ने अपराध दंड संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 के तहत राज्य भर में लोगों के ज्यादा संख्या में इकट्ठा होने पर पाबंदी लगाई है। स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने कहा कि राज्य सरकार ने भी शनिवार की रात से अंतर राज्यीय परिवहन पर रोक का आदेश जारी किया है जिसमें आवश्यक पदार्थों की आपूर्ति शामिल नहीं है।

गोवा की सीमा महाराष्ट्र और कर्नाटक के साथ लगती है जहां कई लोगों में कोरोना वायरस के मामले की पुष्टि हुई है। गोवा में अगले आदेश तक शादियों सहित निजी कार्यक्रमों को प्रतिबंधित कर दिया गया है। अरुणाचल प्रदेश के राज्य चुनाव आयोग ने घोषणा की कि अप्रैल-मई में होने वाले निगम और पंचायत चुनावों पर अस्थायी रूप से रोक लगा दी गई है।

महाराष्ट्र में नासिक प्रशासन ने शनिवार से अगले आदेश तक शराब की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया। कलेक्टर सूरज मंधारे ने होटलों और रिसॉर्ट में स्थित बार सहित अन्य बार और शराब की दुकानों को बंद करने के आदेश दिए। अकोला जिला प्रशासन ने 22 मार्च से 24 मार्च के बीच तालाबंदी के आदेश दिए हैं जिस दौरान आवश्यक सामग्री बेचने वालों को छोड़कर सभी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे।

पंजाब में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या शनिवार को बढ़कर 13 हो गई। पंजाब सरकार द्वारा मीडिया में जारी बुलेटिन में बताया गया कि राज्य में कोविड-19 के पॉजिटिव रोगियों की संख्या 13 हो गई है। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी सरकार ने सभी रेस्तरां, बार, पब, नाइटक्लब, मनोरंजन पार्क, म्यूजियम और चिड़ियाघर को 31 मार्च तक बंद करने के आदेश दिए हैं। बिहार सरकार ने समूचे राज्य में 31 मार्च तक बस सेवाएं, रेस्तरां और विवाह भवन बंद करने का आदेश दिया है।

जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने कहा कि विदेश यात्रा करने वाले सभी कर्मचारी और उनके रिश्तेदार काम पर आने से पहले पृथक केंद्रों में रहेंगे। कोरोना वायरस से प्रभावित लोगों की संख्या बढ़ने के साथ एक दंपति को दिल्ली जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस से उतार दिया गया। उसके साथ यात्रा कर रहे यात्रियों ने पति के हाथ पर घर में पृथक रहने का मोहर देखा, जिसके बाद उन्हें उतारा गया। रेलवे ने लोगों ने गैर जरूरी यात्रा से बचने की सलाह दी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उसने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से 1,000 स्थानों पर गंभीर चिकित्सा प्रबंधन के लिए प्रशिक्षण चलाया और रविवार को वह कोरोना वायरस की आपात स्थिति से निपटने के लिए पूरे देश में मॉक ड्रिल चलाएंगे। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कोरोना वायरस के लिए दिशानिर्देश की समीक्षा की गई है और निर्देश दिया गया है कि पॉजिटिव मामलों के संपर्क में आने वालों का संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के पांचवें और 14वें दिन के बीच एक बार जांच की जानी चाहिए।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

हुब्बली: नेहा की हत्या के आरोपी फैयाज के पिता ने कहा- ऐसी सजा मिलनी चाहिए, ताकि ... हुब्बली: नेहा की हत्या के आरोपी फैयाज के पिता ने कहा- ऐसी सजा मिलनी चाहिए, ताकि ...
नेहा की अपने पिता के साथ एक तस्वीर। साभार: niranjan.hiremath.75 फेसबुक पेज।
पाकिस्तान में आतंकवादियों ने फ्रंटियर कोर के सैनिक और 2 सरकारी अधिकारियों की हत्या की
उच्च न्यायालय ने बीएच सीरीज वाहन पंजीकरण पर नई शर्तें लगाने वाले परिपत्र को रद्द किया
राहुल ने फिर उठाया 'जाति और आबादी' का मुद्दा, कहा- सरकार नहीं चाहती 'भागीदारी' बताना
बेंगलूरु में बोले मोदी- कांग्रेस ने टैक्स सिटी को टैंकर सिटी बना दिया
भाजपा के 'न्यू इंडिया' में असहमति की आवाजें खामोश कर दी जाती हैं: प्रियंका वाड्रा
कांग्रेस एक ऐसी बेल, जिसकी अपनी न कोई जड़ और न जमीन है: मोदी