इजराइल ने गाजा में हमले तेज किए, हमास ने दी यह बड़ी धमकी

इजराइल की इस नाकाबंदी से गाजा पूरी तरह मिस्र पर निर्भर हो जाएगा

इजराइल ने गाजा में हमले तेज किए, हमास ने दी यह बड़ी धमकी

मिस्र रेड क्रीसेंट की ओर से दो टन से अधिक चिकित्सा सामग्री गाजा भेजी गई है

यरूशलम/एपी। इजराइल ने हमास आतंकवादियों के हमले के जवाब में गाजा पट्टी में हमले तेज कर दिए और पूरी तरह से नाकाबंदी कर वहां खाद्य सामग्री, ईंधन और अन्य सामान की आपूर्ति रोक दी।

हमास ने भी कहा कि अगर बिना पूर्व चेतावनी के नागरिकों को निशाना बनाकर हमले किए जाते हैं, तो वह बंधक बनाए गए इजराइलियों को मौत के घाट उतार देगा। इस युद्ध में दोनों पक्षों के करीब 1,600 लोगों की मौत हो चुकी है।

युद्ध के तीसरे दिन इजराइल हमास द्वारा दक्षिणी शहरों में किए गए हमलों में मारे गए लोगों के शव तलाश रहा है। बचाव कर्मियों ने एक छोटे कृषि समुदाय बीरी से 100 शव बरामद किए हैं। वहीं, गाजा में लगातार जारी हवाई हमलों में इमारतों के जमींदोज होने के कारण हजारों निवासी अपने घरों को छोड़कर चले गए हैं।

इजराइली सेना ने कहा कि उसने दक्षिणी हिस्से पर फिर से कब्जा जमा लिया है, जहां हमास द्वारा घुसकर हमला करने के घटनाक्रम ने सेना और खुफिया तंत्र को चौंका दिया था।

हमास और गाजा में सक्रिय अन्य अतांकवादियों ने दावा किया कि उन्होंने इजराइल के 130 से अधिक सैनिकों और नागरिकों को बंधक बनाया है।

इजराइल ने और आक्रमण रोकने के लिए गाजा सीमा पर टैंक और ड्रोन तैनात किए हैं। गाजा के पास 12 से अधिक शहरों से हजारों इजराइलियों को निकाला गया है और सेना ने 3,00,000 अतिरिक्त सैनिकों को बुलाया है।

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने राष्ट्रीय टेलीविजन पर दिए संबोधन में कहा, ‘हमने हमास पर हमला करना अभी तो शुरू ही किया है। हम आने वाले दिनों में अपने दुश्मनों के साथ जो करेंगे, उसकी गूंज कई पीढ़ियों तक सुनाई देगी।’

इजराइली सेना के सीमा के पास अतिरिक्त बलों को तैनात करने से एक बड़ा सवाल खड़ा होता है कि क्या वह छोटे से भूमध्यसागरीय तटीय क्षेत्र गाजा में जमीनी आक्रमण शुरू करेगी। उसने आखिरी बार 2014 में जमीन पर आक्रमण किया था।

इजराइली सेना ने बताया कि हमलों में देश में 900 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि गाजा में 680 से ज्यादा लोग मारे गए हैं, जिनमें सैकड़ों हमास लड़ाके भी शामिल है। दोनों पक्षों के हजारों लोग इस संघर्ष में घायल हुए हैं।

इजराइल के हवाई हमलों के जवाब में हमास की सैन्य शाख के प्रवक्ता अबू ओबैदा ने सोमवार रात को कहा कि जब-जब इजराइल गाजा के नागरिकों को उनके घरों में ‘बिना किसी पूर्व चेतावनी’ के निशाना बनाएगा, तब-तब समूह एक इजराइली बंधक की हत्या करेगा।

इजराइल के विदेश मंत्री अली कोहेन ने हमास को किसी भी बंधक को नुकसान पहुंचाने के खिलाफ चेतावनी देते हुए कहा, ‘इस युद्ध अपराध को भुलाया नहीं जाएगा।’

नेतन्याहू ने बंधक संकट से निपटने और लापता लोगों की तलाश के लिए एक पूर्व सैन्य कमांडर को नियुक्त किया है।

संयुक्त राष्ट्र के मानवीय मामलों के समन्वय कार्यालय ने मंगलवार को बताया कि गाजा पर इजराइली हवाई हमलों में 790 मकान जमींदोज हो गए हैं और 5,330 गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हुए हैं। जल और साफ-सफाई से संबंधित तीन स्थानों पर हमले से 4,00,000 लोगों तक सेवाएं बाधित हो गई हैं।

इजराइल के रक्षा मंत्री याओव गैलेंट ने गाजा की ‘पूर्ण नाकाबंदी’ का आदेश देते हुए कहा कि प्राधिकारी बिजली आपूर्ति बंद करेंगे और खाद्य सामग्री तथा ईंधन लेकर जाने वाले वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाएंगे।

इजराइल की इस नाकाबंदी से गाजा पूरी तरह मिस्र पर निर्भर हो जाएगा, जिसकी राफा सीमा से माल ले जाने की क्षमता इजराइल की अन्य जांच चौकियों के मुकाबले कम है।

मिस्र के एक अन्य अधिकारी ने नाम न उजागर करने की शर्त पर बताया कि मिस्र रेड क्रीसेंट की ओर से दो टन से अधिक चिकित्सा सामग्री गाजा भेजी गई है। अधिकारी के मुताबिक, क्षेत्र में खाद्य सामग्री और अन्य जरूरी सामान की आपूर्ति के भी प्रयास किए जा रहे हैं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा आज सब्जी बेचने वाला भी डिजिटल पेमेंट लेता है, यह बदलता भारत है: नड्डा
नड्डा ने कहा कि लालू यादव, तेजस्वी और राहुल गांधी कहते थे कि भारत तो अनपढ़ देश है, गांव में...
राजकोट: गेमिंग जोन में आग मामले में अब तक पुलिस ने क्या कार्रवाई की?
पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह
जैन मिशन अस्पताल द्वारा महिलाओं के लिए निःशुल्क सर्वाइकल कैंसर और स्तन जांच शिविर 17 जून तक
राजकोट: गुजरात उच्च न्यायालय ने अग्निकांड का स्वत: संज्ञान लिया, इसे मानव निर्मित आपदा बताया
इंडि गठबंधन वालों को देश 'अच्छी तरह' जान गया है: मोदी
चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर