पाक में नरम पड़े इमरान की पार्टी के तेवर, अब उठाएगी यह कदम

पीटीआई से पिछले महीने उसका चुनाव चिह्न छीन लिया गया था

पाक में नरम पड़े इमरान की पार्टी के तेवर, अब उठाएगी यह कदम

Photo: @PTIOfficialPK YouTube Channel

इस्लामाबाद/दक्षिण भारत। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पीटीआई ने गुरुवार को घोषणा की कि वह 3 मार्च को नए सिरे से इंट्रा-पार्टी चुनाव कराएगी।

आठ फरवरी के आम चुनावों से पहले लंबी लड़ाई और मैराथन सुनवाई के बाद, पीटीआई से पिछले महीने उसका चुनाव चिह्न छीन लिया गया था, जब उच्चतम न्यायालय ने पार्टी के आंतरिक चुनावों को असंवैधानिक घोषित करने के पाकिस्तान चुनाव आयोग के फैसले को बरकरार रखा था।

अपने विस्तृत फैसले में, शीर्ष न्यायालय ने फैसला सुनाया था कि किसी राजनीतिक दल को किसी भी छोटे उल्लंघन के लिए उसके चुनाव चिह्न से वंचित नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन अंतर-पार्टी चुनाव को छोड़ना कानून और संविधान का एक बड़ा उल्लंघन था।

फैसले ने पार्टी के सैकड़ों सदस्यों को अलग-अलग चुनावी प्रतीकों के साथ स्वतंत्र उम्मीदवारों के रूप में चुनाव लड़ने के लिए मजबूर किया और पीटीआई को आरक्षित सीटों के अधिकार से वंचित कर दिया।

पार्टी ने पहले 5 फरवरी को आंतरिक चुनाव कराने का फैसला किया था, लेकिन बाद में उसने अपना मन बदल लिया और प्रशासन द्वारा बनाई गई सुरक्षा स्थिति और सदस्यों द्वारा व्यक्त की गई चिंताओं के कारण उन्हें 8 फरवरी के आम चुनाव तक के लिए स्थगित कर दिया।

Google News

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'इंडि' गठबंधन के पक्ष में जन समर्थन की एक अदृश्य लहर है: खरगे का दावा 'इंडि' गठबंधन के पक्ष में जन समर्थन की एक अदृश्य लहर है: खरगे का दावा
खरगे ने अपने दामाद राधाकृष्ण दोड्डामणि के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित किया
आज का भारत मोदी के नेतृत्व में न तो किसी के पास गिड़गिड़ाता है, न ही पिछलग्गू है: नड्डा
अदालत ने कविता को 15 अप्रैल तक सीबीआई हिरासत में भेजा
मोदी का आरोप- कांग्रेस की सोच विकास विरोधी, ये सीमावर्ती गांवों को 'आखिरी गांव' कहते हैं
नरम पड़े मालदीव के तेवर, भारत से आयात के लिए स्थानीय मुद्रा में भुगतान को लेकर कर रहा बात
ठगों से सावधान: आरबीआई में नौकरी के नाम लगा दिया 2 करोड़ रु. से ज्यादा का चूना
यह चुनाव सिर्फ सांसद चुनने का नहीं, बल्कि देश में मजबूत सरकार बनाने का है: मोदी