विलय पर पारदर्शी बातचीत का समय आ गया है : पांडियाराजन

विलय पर पारदर्शी बातचीत का समय आ गया है : पांडियाराजन

चेन्नई। अखिल भारतीय अन्ना द्रवि़ड मुनेत्र कषगम (अन्नाद्रमुक) के पलानीसामी और पन्नीरसेल्वम ध़डों के विलय की संभावनाओं को मजबूत करते हुए पन्नीरसेल्वम ध़डे ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री पलानीसामी द्वारा पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की मौत की जांच का आदेश देने की घोषणा करने का स्वागत किया है। पूर्व मंत्री और पन्नीरसेल्वम ध़डे के वरिष्ठ नेता माफोई पांडियाराजन ने शुक्रवार को सोशल मीडिया के माध्यम से कहा कि अब दोनों ध़डों को एक करने के लिए पारदर्शी बातचीत होनी चाहिए। उन्होंने ट्वीटर पर ट्वीट कर कहा कि यह पन्नीरसेल्वम के धर्मयुद्ध की जीत है कि उनके द्वारा रखी गई तीन प्रमुख मांगों को मान लिया गया है। अब दोनों पक्षों के विलय के लिए पारदर्शी बातचीत का समय आ गया है।हालांकि पन्नीरसेल्वम ध़डे के कुछ नेता ऐसे भी हैं जो मुख्यमंत्री पलानीसामी द्वारा की गई घोषणा से संतुष्ट नहीं हैं। पन्नीरसेल्वम ध़डे के एक अन्य वरिष्ठ नेता केपी मुनुसामी ने शुक्रवार को यहां पत्रकारों से कहा कि हमारी ओर से पूर्व मुख्यमंत्री की मौत की केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) से जांच करवाने की मांग की गई थी और मुख्यमंत्री द्वारा इसकी न्यायिक जांच करवाने का सुझाव दिया गया था। उन्होंने कहा कि इस मामले में न्यायिक जांच का आदेश देने का निर्णय लेना एक स्वागत योग्य कदम है लेकिन मुख्यमंत्री को यह जांच सीबीआई को सौंपने पर विचार करना चाहिए।जब मुनुसामी से पूछा गया कि क्या अब पलानीसामी और पन्नीरसेल्वम ध़डे के बीच विलय वार्ता की संभावनाएं प्रबल हो गई हैं तो उन्होंने कहा कि जहां तक विलय की बात है तो यह तभी संभव है जब पार्टी प्रमुख (वीके शशिकला) और उनके परिवार के सदस्यों को पार्टी से निष्काषित कर दिया जाए। हालांकि पांडियाराजन ने उम्मीद प्रकट की है कि मुख्यमंत्री द्वारा की गई घोषणा से दोनों ध़डों के साथ आने की संभावना बढेगी। हालांकि अभी तक पन्नीरसेल्वम की ओर से विलय के बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं किया गया है।सूत्रों के अनुसार पन्नीरसेल्वम और पलानीसामी दोनों ध़डे अब एक साथ आने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। सब कुछ ठीक रहता है तो तमिल आडी महीना बीतने के बाद आवनी महीने में दोनों गुटों का विलय हो जाएगा। ज्ञातव्य है कि तमिल कैलेंडर के अनुसार आडी महीने में कोई भी नया कार्य शुरु करना शुभ नहीं माना जाता और यही कारण है कि विलय के लिए इस महीने के बाद का समय निर्धारित करने की योजना बनाई गई है। इसी क्रम में पन्नीरसेल्वम अपने ग्रीनवेज स्थित आवास पर नियमित रुप से अपने ध़डे के वरिष्ठ नेताओं और समर्थकों के साथ विलय के मुद्दे पर बातचीत कर रहे हैं।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा