असम: मोदी का स्वागत करने के लिए तैयार है कोकराझार

असम: मोदी का स्वागत करने के लिए तैयार है कोकराझार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

कोकराझार/भाषा। असम के कोकराझार में शुक्रवार को उत्सव जैसा माहौल बना हुआ है और लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करने की तैयारी कर रहे हैं, जो बोडो समझौते पर हस्ताक्षर का जश्न मनाने के लिए आज यहां आएंगे।

अधिकारियों ने बताया कि गैर-बोडो वासियों समेत विभिन्न जातीय समूहों के लोग बड़ी संख्या में प्रधानमंत्री का स्वागत करने के लिए यहां एकत्रित हुए हैं। विभिन्न समुदायों की सांस्कृतिक मंडलियां प्रधानमंत्री के भाषण से पहले अपने कार्यक्रम पेश करेंगी।

मोदी ने बृहस्पतिवार रात को ट्वीट किया था, हम बोडो समझौते पर सफलतापूर्वक हस्ताक्षर किए जाने का जश्न मनाएंगे, जिससे दशकों की समस्या का अंत होगा। यह शांति और प्रगति के नए युग की शुरुआत का प्रतीक होगा।

सरकार ने 27 जनवरी को नेशनल डेमोक्रेटिक फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (एनडीएफबी) के चार धड़ों, ऑल बोडो स्टूडेंट्स यूनियन और एक नागरिक संस्था के साथ बोडो समझौते पर हस्ताक्षर किया था। इसका उद्देश्य असम के बोडो बहुल क्षेत्रों में दीर्घकालिक शांति लाना है।

अधिकारियों ने बताया कि मोदी का गुवाहाटी में एलजीबी हवाईअड्डे से एक हेलीकॉप्टर से यहां पहुंचने का कार्यक्रम है। वह दोपहर को नयी दिल्ली से गुवाहाटी पहुंचेंगे।

अधिकारियों ने बताया कि जंगखरिथाई मैदान में और उसके आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी गई, जहां मोदी को शुक्रवार दोपहर में रैली को संबोधित करना है। सभी वाहनों को आयोजन स्थल से डेढ़ किलोमीटर पहले रोक दिया गया है।

उन्होंने बताया कि रैली में 10 लाख से अधिक लोगों के भाग लेने की संभावना है। एबीएसयू नेताओं ने बताया कि रैली में भाग लेने के लिए कोकराझार में उनके 10,000 से अधिक स्वयंसेवक एकत्रित हो गए हैं। इस रैली को ‘विजय उत्सव’ का नाम दिया जा रहा है।

राज्य सरकार ने प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर बोडोलैंड क्षेत्रीय इलाका जिला (बीटीएडी) के चार जिलों कोकराझार, उदलगुड़ी, बक्सा और चिरांग में शुक्रवार को सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News