फसल के नुकसान पर किसानों को 940 करोड़ रु. की राहत दी गई: तमिलनाडु के कृषि मंत्री

उन्होंने कहा कि अब वर्तमान सरकार के प्रयासों से गन्ने की खेती बढ़कर 1.5 लाख हेक्टेयर हो गई है

फसल के नुकसान पर किसानों को 940 करोड़ रु. की राहत दी गई: तमिलनाडु के कृषि मंत्री

Photo: @mrk.panneerselvam FB page

चेन्नई/दक्षिण भारत। तमिलनाडु सरकार ने पिछले तीन वर्षों में सूखे या बाढ़ के कारण फसल नुकसान का सामना करने वाले किसानों को 940 करोड़ रुपए की राहत प्रदान की है। राज्य के कृषि मंत्री एमआरके पन्नीरसेल्वम ने गुरुवार को विधानसभा को यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा, यहां तक कि दक्षिणी थूथुकुडी जिले में दिसंबर 2023 की बाढ़ के कारण जिनकी फसल नष्ट हो गई थी, उन्हें भी यह मुआवजा दिया गया।

पन्नीरसेल्वम ने 20 फरवरी को विधानसभा में उनके द्वारा प्रस्तुत चौथे कृषि बजट पर बहस को समाप्त करते हुए कहा कि कुल मिलाकर 12.58 लाख किसान लाभान्वित हुए। इसके अलावा, 25.12 लाख किसानों को 4,436 करोड़ रुपए का फसल बीमा मुआवजा प्रदान किया गया।

मंत्री ने पिछली अन्नाद्रमुक सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में गन्ने की खेती के रकबे में भारी गिरावट आई है। पन्नीरसेल्वम ने कहा कि अन्नाद्रमुक शासन के एक दशक में गन्ने की खेती घटकर मात्र 95000 हेक्टेयर रह गई है जो पहले 3.5 लाख हेक्टेयर थी।

उन्होंने कहा कि अब वर्तमान सरकार के प्रयासों से गन्ने की खेती बढ़कर 1.5 लाख हेक्टेयर हो गई है। 

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News