अलग राज्य की मांग मूर्खतापूर्ण : सिद्दरामैया

अलग राज्य की मांग मूर्खतापूर्ण : सिद्दरामैया

बेंगलूरु/दक्षिण भारतराज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सिद्दरामैया ने रविवार को कहा कि जो लोग अखंड एकीकृत कर्नाटक के बारे में नहीं जानते वह ही उत्तर कर्नाटक के लिए अलग राज्य की मांग करेंगे। सिद्दरामैया ने कहा कि अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने विकास कार्यों के लिए और सिंचाई समेत विभिन्न योजनाओं को विशेष प्राथमिकता देते हुए इन योजनाओं के लिए भारी राशि आवंटित की गई। इसके साथ ही उन्होंने पूछा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के पांच वर्ष के दौरान क्या किया गया?उन्होंने कहा कि उत्तर कर्नाटक के विकास के लिए केंद्र सरकार का योगदान शून्य है और अब भाजपा अलग राज्य की मांग का समर्थन कर रही है। उन्होंने कहा कि जनता दल(एस)-कांग्रेस गठबंधन सरकार द्वारा इस मुद्दे पर विरोध करने के फैसले का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि अलग राज्य की कोई आवश्यकता नहीं है और इसकी मांग करना एक मूर्खतापूर्ण तर्क था।सिद्दरामैया जो कि कांग्रेस कार्यकारिणी के सदस्य भी है ने, कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं के साथ विभिन्न राजनीतिक मुद्दों पर चर्चा की जा रही और उन्हें अगले वर्ष लोकसभा चुनाव में पार्टी की सफलता के लिए एकजुट रूप से काम करने के लिए कहा जा रहा है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News