कु मारस्वामी ने कभी राहुल को बताया था राजनीति का कच्चा खिलाड़ी

कु मारस्वामी ने कभी राहुल को बताया था राजनीति का कच्चा खिलाड़ी

बेंगलूरु/दक्षिण भारतकर्नाटक में कांग्रेस के हाथ के साथ एचडी कुमारस्वामी सरकार बनाने वाले हैं। बुधवार को वह मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। कर्नाटक में वह जिस पार्टी के साथ मिलकर सरकार बनाने जा रहे हैं उसे ही उन्होंने लोकतंत्र के लिए भाजपा से ज्यादा खतरनाक बताया था। मगर अब उनके तेवर बदल गए हैं्। इससे एक बात तो साफ हो जाती है कि राजनीति में कभी भी दोस्त दुश्मन और दुश्मन दोस्त बन सकता है। एक अंग्रेजी अखबार को कुमारस्वामी ने २७ मार्च २०१८ यानी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले एक इंटरव्यू दिया था जिसमें उन्होंने कांग्रेस को भाजपा से ज्यादा खतरनाक करार दिया था। किसानों के मुद्दे पर कुमारस्वामी ने कहा था कि कांग्रेस और भाजपा दोनों ने राष्ट्रीयकृत बैंकों से किसानों द्वारा लिए गए ऋण को माफ करने से साफ मना कर दिया है। यदि हम सत्ता में आते हैं तो किसानों के कर्ज माफ करेंगे। जब कुमारस्वामी से पूछा गया था कि राहुल गांधी आपको भाजपा की ’’बी टीम’’ कह रहे हैं तो इसके जवाब में उन्होंने कहा था, ’’राहुल गांधी को कर्नाटक की राजनीति का एबीसीडी तक नहीं आता है। वह अपनी इच्छानुसार हमारा उपयोग करते हैं और अब हमें भाजपा की ’’बी टीम’’ बता रहे हैं्। हमारी आलोचना करने से पहले राहुल गांधी को अपनी मां के पास जाना चाहिए और उनसे पूछना चाहिए कि क्या वादे थे और क्यों लोगों ने केंद्र में सत्ता पर काबिज रही उनकी पार्टी को सिरे से नकार दिया?’’ कुमारस्वामी ने आगे कहा था, ’’मैंने कई बार कहा है कि इस देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए भाजपा से ज्यादा खतरनाक कांग्रेस है। अगर आज हम भाजपा के साथ ख़डे हो जाते हैं तो सबसे ज्यादा परेशानी कांग्रेस को होगी और उसका कर्नाटक से सूप़डा साफ हो जाएगा। कांग्रेस की जो भी थो़डी बहुत लाज बची है वह जनता दल (एस) की वजह से है। सिद्दरामैया की अगवाई वाली कांग्रेस भाजपा की जेड और वाई टीम हो सकती है। बार-बार जनता दल (एस) को लेकर बात करने की वजह से आप (कांग्रेस) खुद का राज्य से बहिष्कार कर रहे हो। इसी बात की संभावना भाजपा ने भी जताई है।’’

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी सपा-कांग्रेस के 'शहजादों' को अपने परिवार के आगे कुछ भी नहीं दिखता: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि सपा सरकार में माफिया गरीबों की जमीनों पर कब्जा करता था
केजरीवाल का शाह से सवाल- क्या दिल्ली के लोग पाकिस्तानी हैं?
किसी युवा को परिवार छोड़कर अन्य राज्य में न जाना पड़े, ऐसा ओडिशा बनाना चाहते हैं: शाह
बेंगलूरु हवाईअड्डे ने वाहन प्रवेश शुल्क संबंधी फैसला वापस लिया
जो काम 10 वर्षों में हुआ, उससे ज्यादा अगले पांच वर्षों में होगा: मोदी
रईसी के बाद ईरान की बागडोर संभालने वाले मोखबर कौन हैं, कब तक पद पर रहेंगे?
'न चुनाव प्रचार किया, न वोट डाला' ... भाजपा ने इन वरिष्ठ नेता को दिया 'कारण बताओ' नोटिस