लोकसभा में कांग्रेस सदस्यों के कागज उछालने की घटना को लेकर नोकझोंक, कार्यवाही बाधित

लोकसभा में कांग्रेस सदस्यों के कागज उछालने की घटना को लेकर नोकझोंक, कार्यवाही बाधित

लोकसभा में कांग्रेस सदस्यों के कागज उछालने की घटना को लेकर नोकझोंक, कार्यवाही बाधित

फोटो स्रोत: parliamentofindia.nic.in

नई दिल्ली/भाषा। लोकसभा में एक दिन पहले कांग्रेस के कुछ सदस्यों की ओर से कागज उछालने की घटना को लेकर बृहस्पतिवार को सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच तीखी नोकझोंक होने के कारण सदन की कार्यवाही आरंभ होने के करीब पांच मिनट सुबह 11.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

सदन की कार्यवाही आरंभ होने पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने बुधवार की घटना को लेकर अपनी पीड़ा व्यक्त की और सदस्यों को चेतावनी दी कि अगर भविष्य में संसद की गरिमा के प्रतिकूल घटनाओं की पुनरावृत्ति की गई तो वह कार्रवाई करेंगे।

उन्होंने कहा कि आसन के प्रति कल का आचरण अनुचित था । सदस्य अपने आचरण एवं मर्यादाओं का ध्यान रखें। इस दौरान लोकसभा में नेता अधीर रंजन चौधरी ने आरोप लगाया कि सरकार अपनी जिद पर अड़ी है और विपक्ष को अपनी बात नहीं रखने दे रही है।

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि आसन और सत्तापक्ष एवं मीडिया की ओर कागज फेंका गया। उन्होंने सवाल किया कि क्या यही तरीका है और इस पर माफी मांगने की जरूरत भी नहीं समझ रहे हैं।

इसके बाद सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच नोकझोंक शुरू हो गई। अध्यक्ष ओम बिरला ने सुबह करीब 11 बजकर पांच मिनट पर सदन की कार्यवाही 11.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

गौरतलब है कि बुधवार को सदन में पेगासस जासूसी मामले पर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेस के कुछ सदस्यों ने पटल पर रखे कागज आसन और सत्तापक्ष की तरफ उछाले थे।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह पीओके भारत का है, उसे लेकर रहेंगे: शाह
शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने तय किया है कि एससी-एसटी-ओबीसी के आरक्षण को हम हाथ भी नहीं लगाने...
जैन मिशन अस्पताल द्वारा महिलाओं के लिए निःशुल्क सर्वाइकल कैंसर और स्तन जांच शिविर 17 जून तक
राजकोट: गुजरात उच्च न्यायालय ने अग्निकांड का स्वत: संज्ञान लिया, इसे मानव निर्मित आपदा बताया
इंडि गठबंधन वालों को देश 'अच्छी तरह' जान गया है: मोदी
चक्रवात 'रेमल' के बारे में आई यह बड़ी खबर, यहां रहेगा ज़बर्दस्त असर
दिल्ली: आवासीय इमारत में लगी भीषण आग, 3 लोगों की मौत
राजकोट: एसआईटी ने बैठक की, पीड़ितों की पहचान के लिए डीएनए नमूने लिए