ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी

प्रधानमंत्री ने ओडिशा के ढेंकनाल में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित किया

ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि बीजद के राज में न तो ओडिशा की संपदा सुरक्षित है और न ही सांस्कृतिक धरोहर

ढेंकनाल/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ओडिशा के ढेंकनाल में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर खूब 'शब्दबाण' छोड़े। उन्होंने कहा कि आज देश में पांचवें चरण का मतदान भी हो रहा है। बड़ी संख्या में मतदाता पोलिंग बूथ पर पहुंचकर अपना कर्तव्य निभा रहे हैं। उन्होंने सभी मतदाताओं, खासकर जो पहली बार मतदान कर रहे हैं, से आग्रह किया कि वे वोट जरूर डालें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि वे सोमनाथ की धरती यानी गुजरात से जगन्नाथ की धरती यानी ओडिशा को प्रणाम करने आए हैं। उन्होंने कहा कि जब ओडिशा में गरीबी देखता हूं, तो मेरे दिल में दर्द होता है कि इतना समृद्ध प्रदेश, इतनी महान विरासत वाले मेरे ओडिशा को किसने तबाह और बर्बाद कर दिया?

प्रधानमंत्री ने कहा कि इसकी वजह बीजद सरकार को बताते हुए कहा कि यह पूरी तरह भ्रष्टाचारियों के कब्जे में है। मुट्ठीभर भ्रष्टाचारी मुख्यमंत्री आवास और कार्यालय पर कब्जा करके बैठ गए हैं। बीजद के छोटे-छोटे नेता भी करोड़ों के मालिक बन गए हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि चुनाव के समय में दुनिया के कई विशेषज्ञ देशभर में घूम रहे हैं। वे भारत के मतदाताओं की नब्ज टटोल रहे हैं। हर कोई चकित है कि यह जन समर्थन, जनता-जनार्दन का आशीर्वाद, हर कोई मोदी सरकार को तीसरी बार वापस लाना चाहता है। उन्होंने कहा कि वे इसमें भी महिलाओं और नौजवानों का अलग ही उत्साह देख रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ओडिशा के गांव-गांव, गली-गली से एक ही आवाज आ रही है- ओडिशा में पहली बार डबल इंजन सरकार। आपने बीजद सरकार पर 25 साल भरोसा किया है। आज पूरा ओडिशा यह आत्ममंथन कर रहा है कि इन वर्षों में ओडिशा के लोगों को क्या मिला?

प्रधानमंत्री ने कहा कि बीजद के राज में न तो ओडिशा की संपदा सुरक्षित है और न ही ओडिशा की सांस्कृतिक धरोहर सुरक्षित है। बीजद सरकार में जगन्नाथजी का मंदिर भी सुरक्षित नहीं बचा है। पिछले छह वर्षों से श्रीरत्न भंडार की चाबी का भी अता-पता नहीं है। इसके पीछे का बहुत बड़ा राज बीजद सरकार और मुख्यमंत्री के करीबी लोग छिपा रहे हैं। पूरा ओडिशा जानना चाहता है कि जो जांच हुई थी, उसकी रिपोर्ट में ऐसा क्या है कि बीजद ने वह रिपोर्ट ही दबा दी?

प्रधानमंत्री ने कहा कि आप यहां भाजपा की सरकार बनाइए, भाजपा ओडिशा के बेटे या बेटी को ही यहां का मुख्यमंत्री बनाएगी। दस जून को ओडिशा में भाजपा की डबल इंजन सरकार का शपथ ग्रहण कार्यक्रम होगा, क्योंकि बीजद सरकार का जाना तय है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी के ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए। वह बीजद सरकार किसी भी हालत में नहीं दे सकती। इस शताब्दी के अब तक के पूरे हिस्से में आप बीजद को मौका दे चुके हैं। अब समय आ गया है कि बीजद की ढीली-ढाली नीतियों, ढीला-ढाले काम और धीमी रफ्तार को छोड़कर भाजपा की तेज रफ्तार सरकार चुनें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने आदिवासी परिवारों के लिए वनधन योजना बनाई। इसके माध्यम से वन उत्पादों की खरीद एमएसपी पर होती है। देशभर में 3,500 से ज्यादा वनधन केंद्र हैं। ओडिशा में भी पौने 200 वनधन केंद्र खुले हैं। इनमें 80 से अधिक वन उत्पादों की खरीद एमएसपी पर होती है। बीजद सरकार वन उपज पर सही एमएसपी तक नहीं देती।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है' 'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
राजभाषा के प्रयोग-प्रसार एवं कार्यान्वयन से संबंधित उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी लगाई गई
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.
मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन कर रहा भारत, कांग्रेस को हो रही ईर्ष्या: भाजपा