एलओसी पर लश्कर के 5 आतंकवादियों के खात्मे से बौखलाया पाक

पाकिस्तान रेंजर्स द्वारा की गई गोलीबारी

एलओसी पर लश्कर के 5 आतंकवादियों के खात्मे से बौखलाया पाक

फोटो: बीएसएफ जम्मू एक्स अकाउंट

जम्मू/श्रीनगर/दक्षिण भारत। भारतीय सुरक्षा बलों को आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई में बड़ी कामयाबी मिली है। उन्होंने गुरुवार को कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर घुसपैठ की कोशिश कर रहे पांच लश्कर आतंकवादियों को मार गिराया। वहीं, जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान रेंजर्स द्वारा की गई अकारण गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तानी सैनिकों ने रात को अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अरनिया और आरएस पुरा सेक्टरों में पांच भारतीय चौकियों को निशाना बनाया, जिसमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) का एक जवान और चार नागरिक घायल हो गए।

कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पुलिस और सेना के संयुक्त अभियान के कुछ घंटों बाद अरनिया सेक्टर में संघर्ष विराम का उल्लंघन हुआ।

सुरक्षा बलों के अनुसार, पाकिस्तान रेंजर्स ने रात करीब आठ बजे भारतीय चौकियों पर बिना उकसावे के गोलीबारी की, जिसका भारत की ओर से 'मुंहतोड़' जवाब दिया गया। घायल जवान को विशेष इलाज के लिए जम्मू के जीएमसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गोलीबारी रुक-रुक कर हो रही थी।

जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान रेंजर्स ने नागरिक इलाकों पर मोर्टार के गोले भी दागे। इनमें अरनिया, सुचतगढ़, सिया, जबोवाल और त्रेवा जैसे इलाके बताए गए हैं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हाई लाइफ ज्वेल्स' में फैशन के साथ नजर आएगी आभूषणों की अनूठी चमक 'हाई लाइफ ज्वेल्स' में फैशन के साथ नजर आएगी आभूषणों की अनूठी चमक
हाई लाइफ ज्वेल्स 100 से ज्यादा प्रीमियम आभूषण ब्रांड्स को एक छत के नीचे लाता है
एआरई एंड एम ने आईआईटी, तिरुपति में डॉ. आरएन गल्ला चेयर प्रोफेसरशिप की स्थापना के लिए एमओए किया
बजट में किफायती आवास को प्राथमिकता देने के लिए सरकार का दृष्टिकोण प्रशंसनीय: बिजय अग्रवाल
काठमांडू हवाईअड्डे पर उड़ान भरते समय विमान दुर्घटनाग्रस्त, 18 लोगों की मौत
बजट में मध्यम वर्ग और ग्रामीण आबादी को सशक्त बनाने पर जोर सराहनीय: कुमार राजगोपालन
बजट में कौशल विकास पर दिया गया खास ध्यान: नीरू अग्रवाल
भारत को बुलंदियों पर लेकर जाएगी अंतरिक्ष अर्थव्यवस्था: अनिरुद्ध ए दामानी