आईटीआई लिमिटेड को केआईटीई से 25 करोड़ रुपए के लैपटॉप ऑर्डर मिले

दो ऑर्डर क्रमशः 6,600 इकाइयों और 1,883 इकाइयों की आपूर्ति के लिए हैं

आईटीआई लिमिटेड को केआईटीई से 25 करोड़ रुपए के लैपटॉप ऑर्डर मिले

भारत सरकार की 'मेक इन इंडिया' पहल को बढ़ावा

बेंगलूरु/पलक्कड़/दक्षिण भारत। आईटीआई लिमिटेड के पलक्कड़ संयंत्र ने केरल इंफ्रास्ट्रक्चर एंड टेक्नोलॉजी फॉर एजुकेशन (केआईटीई) के दो लैपटॉप ऑर्डर क्रमशः 6,600 इकाइयों और 1,883 इकाइयों की आपूर्ति के लिए 22 करोड़ रुपए और 3 करोड़ रुपए में प्राप्त किए हैं।

भारत सरकार की 'मेक इन इंडिया' पहल के तहत, आईटीआई लि. ने अन्य आईसीटी उत्पादों के बीच स्मैश ट्रेडमार्क / ब्रांडेड माइक्रो पीसी, डेस्कटॉप पीसी, लैपटॉप कंप्यूटर, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कैमरा लॉन्च किया था और ये वर्तमान में बाजार मानक विन्यास में बिक्री के लिए उपलब्ध हैं।

आईटीआई के पलक्कड़ प्लांट को देश की पहली स्विचिंग यूनिट के रूप में वर्ष 1976 में शुरू किया गया था। पलक्कड़ प्लांट से अधिकांश टेलीफोन एक्सचेंज उपकरणों की आपूर्ति की गई थी। बाद में, संयंत्र ने आईटी अवसंरचना और सॉफ्टवेयर सेवाओं जैसे नवीनतम प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में विविधीकरण किया।

एक अभिनव समाधान के रूप में, हाल में आईटीआई पलक्कड़ प्लांट द्वारा कालीकट विश्वविद्यालय के लिए 36 स्मार्ट क्लास रूम स्थापित किए गए थे। कालीकट यूनिवर्सिटी के लिए डेटा सेंटर सेटअप, केरल यूनिवर्सिटी के लिए स्टूडेंट लाइफसाइकिल मैनेजमेंट प्रोग्राम, एमजी यूनिवर्सिटी इनोवेशन फाउंडेशन में डिजिटल स्टूडियो सेटअप, एमजी यूनिवर्सिटी के लिए ऑनलाइन परीक्षा सुविधा, कन्नूर यूनिवर्सिटी के लिए वेबसाइट डिजाइन वगैरह कुछ ऐसी परियोजनाएं हैं, जिन्हें आईटीआई लि. के पलक्कड़ प्लांट द्वारा सफलतापूर्वक निष्पादित और कार्यान्वित किया गया है। 

आईटीआई लि. ने अपनी आईटी विशेषज्ञता के साथ परिवहन क्षेत्र में भी कदम रखा और केरल राज्य मोटर ट्रांसपोर्ट वर्कर्स वेलफेयर फंड बोर्ड के सहयोग से त्रिवेंद्रम शहर में केरल सरकार द्वारा ऑनलाइन-टैक्सी सेवा 'केरल सवारी' परियोजना शुरू की है। इसका जल्द ही केरल के अन्य जिलों में विस्तार किया जाएगा।  

इसके अलावा, आईटीआई लि. एक डिजिटल समाधान प्रदाता के रूप में उभरा है और वर्तमान में राजकीय मोयन मॉडल गर्ल्स हायर सेकंडरी स्कूल, पलक्कड़ का डिजिटलीकरण कर रहा है। जब परियोजना पूरी हो जाएगी, तो यह पूरे शिक्षा क्षेत्र के लिए एक नया मॉडल होगा और 'स्मार्ट क्लास रूम' की वर्तमान अवधारणा में पूरी तरह से बदलाव का मार्ग प्रशस्त करेगा।

आईटीआई आई-मैक्स, इंजीनियरिंग छात्रों के लिए एक अभिनव एआई-आधारित, फिनिशिंग स्कूल सेटअप है, जो उन्हें नौकरी के साक्षात्कार के लिए तैयार करने के वास्ते आईटीआई लि. के पलक्कड़ प्लांट की एक और नवीन परियोजना है। लीड एसिड बैटरी और लिथियम आयन बैटरी का नवीनीकरण कुछ अन्य क्षेत्र हैं, जिनमें आईटीआई लि. प्रवेश करने की योजना बना रहा है। पलक्कड़ प्लांट द्वारा विभिन्न संगठनों के लिए दस्तावेजों की स्कैनिंग और डेटा डिजिटाइजेशन किया जा रहा है।

इस अवसर पर आईटीआई लि. के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक राकेश चंद्र तिवारी ने कहा, हम इस ऑर्डर को प्राप्त करके नए साल की शुरुआत कर खुश हैं और केरल सरकार के आभारी हैं। वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान, आईटीआई पलक्कड़ ने ई-हेल्थ प्रोजेक्ट, एमजी यूनिवर्सिटी, डाइट कर्नाटक, आईआईएसटी आदि के लिए केएसईडीसी जैसे विभिन्न ग्राहकों को 1,500 से अधिक संख्या में स्मैश पीसी का निर्माण और आपूर्ति की है। मुझे विश्वास है कि पलक्कड़ प्लांट इस गति को बनाए रखेगा और केरल सरकार तथा अन्य सरकारी निकायों के साथ इस साझेदारी को जारी रखेगा।

हाल में, विक्रम साराभाई अंतरिक्ष केंद्र (वीएसएससी) गुणवत्ता मानदंडों को पूरा करने वाले समयबद्ध तरीके से एलवीएम3 एम2/वनवेब इंडिया-1 मिशन के लॉन्च के संबंध में उड़ान पैकेज को साकार करने के लिए इसरो द्वारा पलक्कड़ संयंत्र की सराहना की गई थी। पलक्कड़ प्लांट के अन्य व्यावसायिक क्षेत्रों में स्मार्ट एनर्जी मीटर, स्मार्ट बैंकिंग कार्ड, हाई-डेंसिटी पॉलीथीन (एचडीपीई) डक्ट मैन्युफैक्चरिंग और मैनेज्ड लीज्ड लाइन नेटवर्क (एमएलएलएन) उत्पाद शामिल हैं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

हेलीकॉप्टर हादसे में ईरान के राष्ट्रपति का निधन हेलीकॉप्टर हादसे में ईरान के राष्ट्रपति का निधन
ईरानी समाचार-पत्र Tehran Times के प्रथम पृष्ठ पर छपा राष्ट्रपति रईसी का चित्र। उसने इस घटना को 'कर्तव्य के मार्ग...
आज लोकसभा चुनाव के 5वें चरण का मतदान, अब तक डाले गए इतने वोट
मंदिर: एक वरदान
उप्र: रैली को बिना संबोधित किए ही लौटे राहुल और अखिलेश, यह थी वजह
कांग्रेस-तृणकां एक ही सिक्के के दो पहलू, बंगाल में एक-दूसरे को गाली, दिल्ली में दोस्ती: मोदी
कांग्रेस-सपा ने अनुच्छेद-370 को 70 साल तक संभाल कर रखा, जिससे आतंकवाद बढ़ा: शाह
मोदी और भाजपा ने 'आप' को कुचलने के लिए ‘ऑपरेशन झाड़ू’ शुरू किया है: केजरीवाल