सतर्कता जागरूकता सप्ताह में दिया ईमानदारी और नैतिकता का संदेश

सतर्कता जागरूकता सप्ताह में दिया ईमानदारी और नैतिकता का संदेश

उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि सीमा शुल्क प्रधान आयुक्त डॉ. मैथ्यू जॉली थे


चेन्नई/दक्षिण भारत। भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण, दक्षिणी क्षेत्र और चेन्नई हवाईअड्डा कार्यालय में केंद्रीय सतर्कता आयोग के निर्देशों के मुताबिक 31 अक्टूबर से 6 नवंबर तक सतर्कता जागरूकता सप्ताह मनाया गया। इसकी शुरुआत सभी कर्मचारियों द्वारा सत्यनिष्ठा प्रतिज्ञा के साथ हुई।

उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि सीमा शुल्क प्रधान आयुक्त डॉ. मैथ्यू जॉली थे। कार्यक्रम में क्षेत्रीय कार्यपालक निदेशक-दक्षिणी क्षेत्र वेंकटेश्वर एल और विमानपत्तन निदेशक डॉ. शरद कुमार भी शामिल हुए।

विद्यार्थियों में नैतिक मूल्यों को बढ़ावा देने के लिए आउटरीच गतिविधियों के रूप में सप्ताह के दौरान स्कूलों, कॉलेजों में विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। यात्रियों और कर्मचारियों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए टर्मिनल भवन में केंद्रीय विद्यालय, मीनांबक्कम के विद्यार्थियों द्वारा नुक्कड़ नाटक भी प्रस्तुत किया गया।

aai

एक नवंबर को निवारक सतर्कता कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें ‘ईपीएफ अनुपालन’ पर पीएफ आयुक्त, तांबरम हिमांशु कुमार द्वारा सत्र लिया गया। ‘प्रबंधन उपकरण के रूप में सतर्कता’ विषय पर सेवानिवृत्त आईपीएस एवं पूर्व डीजीपी, सतर्कता और भ्रष्टाचार निरोधी सीएल रामकृष्णन द्वारा व्याख्यान दिया गया।

चार नवंबर को निदेशक, सतर्कता और भ्रष्टाचार निरोधी आईपीएस डॉ. पी. कंडास्वामी ने भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के कर्मचारियों और अधिकारियों को व्याख्यान दिया। उन्होंने इस बात पर प्रकाश डाला कि भ्रष्टाचार के पीछे कारण व्यक्ति का लालच है, जो बदले में पूरे समाज में नैतिक मूल्यों को नष्ट करता है। उन्होंने उच्च नैतिक और आचार संबंधी मूल्यों के अभ्यास के महत्व पर भी जोर दिया।

क्षेत्रीय कार्यपालक निदेशक वेंकटेश्वर एल और विमानपत्तन निदेशक डॉ. शरद कुमार ने भी सभा को संबोधित किया। भाविप्रा कर्मचारियों और स्कूलों, कॉलेजों एवं स्टाफ के लिए सप्ताह के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के पुरस्कार विजेताओं को भी पुरस्कृत किया गया। 

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा