कर्नाटक कैबिनेट में फेरबदल पर कब होगी चर्चा? सीएम बोम्मई ने दिया यह जवाब

कर्नाटक कैबिनेट में फेरबदल पर कब होगी चर्चा? सीएम बोम्मई ने दिया यह जवाब

बेंगलूरु रवाना होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए बोम्मई ने कहा कि उन्होंने इस मामले पर बुधवार को नड्डा के साथ बैठक की


नई दिल्ली/भाषा। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने अपने कैबिनेट में फेरबदल के मुद्दे पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ व्यापक चर्चा की है और आगे की चर्चा अगले हफ्ते होगी।

बेंगलूरु रवाना होने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए बोम्मई ने कहा कि उन्होंने इस मामले पर बुधवार को नड्डा के साथ बैठक की।

मुख्यमंत्री ने कहा, कैबिनेट विस्तार पर मेरी विस्तृत चर्चा हुई है। पार्टी आलाकमान ने सारी जानकारी हासिल कर ली है। नड्डा ने कहा है कि पार्टी की राज्य कार्यकारिणी समिति की बैठक के लिए उनकी कर्नाटक यात्रा के दौरान आगे की चर्चा की जाएगी।

बोम्मई ने कहा कि 16-17 अप्रैल को होने वाली पार्टी की राज्य कार्यकारिणी समिति की बैठक में इस मुद्दे पर विचार-विमर्श के बाद पार्टी प्रमुख वरिष्ठ नेताओं और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव से परामर्श करने के बाद अंतिम निर्णय लेंगे।

उन्होंने कहा, नड्डाजी ने मुझे राज्य कार्यकारिणी समिति की बैठक के लिए पूरी तैयारी करने कहा है और अगले विधानसभा चुनाव का सामना करने के लिए तैयारी कैसे की जाए, इस पर भी चर्चा की है।

बोम्मई केंद्रीय मंत्रियों और पार्टी नेताओं से मिलने के लिए दो दिवसीय दौरे पर राष्ट्रीय राजधानी में थे।

हाल में पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों के बाद मुख्यमंत्री पर अपनी कैबिनेट का विस्तार करने या फेरबदल करने का दबाव बढ़ रहा है।

कुछ विधायक अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नए चेहरों को मौका देने लिए कर्नाटक में गुजरात जैसे बदलाव की वकालत कर रहे हैं। राज्य कैबिनेट में फिलहाल मुख्यमंत्री सहित 30 मंत्री हैं, जबकि स्वीकृत संख्या 34 है।

हाल में राज्य का दौरा करने वाले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कर्नाटक के भाजपा नेताओं को 2023 के विधानसभा चुनावों में कुल 224 में से 150 सीटों पर पार्टी की जीत सुनिश्चित करने का लक्ष्य दिया था।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा