विधानसभा में भाजपा ने लगाया सरकार पर हत्यारोपी संगठनों पर कार्रवाई न करने का आरोप

विधानसभा में भाजपा ने लगाया सरकार पर हत्यारोपी संगठनों पर कार्रवाई न करने का आरोप

बेंगलूरु। मुख्य विपक्षी दल भाजपा ने मंगलवार को विधानसभा मंे सरकार पर आरोप लगाया कि राज्य में भाजपा और हिन्दूवादी संगठनांे के कार्यकर्ताओं की लगातार हो रही हत्याओं के कारण कांग्रेस सरकार राज्य में कानून और व्यवस्था की स्थिति संभालने रखने में असफल रही है और इस कारण राज्य में निवेश के माहौल पर बुरा असर प़डा है। भाजपा की ओर से लाए गए स्थगन प्रस्ताव नोटिस पर बोलते हुए विपक्ष के नेता और भाजपा सदस्य जगदीश शेट्टर ने आरोप लगाया कि राज्य की सत्ता में कांग्रेस के आने के बाद से भाजपा, आरएसएस और अन्य हिन्दूवादी संगठनों के कम से कम २६ युवाओं की हत्या हुई है। उन्होंने कहा कि सत्ताधारी दल वोटबैंक की राजनीति के कारण अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है। उन्हांेने कहा कि यहां की सरकार में पीएफआई और एसडीपीआई जैसे संगठनों पर प्रतिबंध लगाने की हिम्मत नहीं है जो संगठन इन हत्याओं के पीछे रहे हैं। इस बीच विधानसभा स्पीकर केबी कोलीवाड ने स्थगन प्रस्ताव का खारिज कर दिया ओर मुद्दे पर बहस की अनुमति एक अन्य नियम के तहत दी। इस दौरान शेट्टर के आरोपों के बाद सत्ताधारी कांग्रेस के सदस्यों ने सदन में प्रदर्शन किया। शेट्टर ने कहा कि राज्य सरकार इन संगठनों को प्रतिबंधित करने के लिए केन्द्र सरकार से सिफारिश करने में असफल रही है क्योंकि कांग्रेस सरकार को अल्पसंख्यक समुदाय का वोटबैंक फिसल जाने का डर है। सदन में यह बहस उस समय राजनीतिक रंग में तब्दील हो गया तब बेंगलूरु विकास मंत्री केजे जार्ज और गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने रविवार को भाजपा की हुई परिवर्तन यात्रा समापन समारोह रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राज्य सरकार पर की गई टिप्पणियों को लेकर उनकी आलोचना की। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने राज्य में भ्रष्टाचार के बारे में लोगों से झूठ बोला था और कहा कि कांग्रेस सरकार ने बेहतर कानून-व्यवस्था की स्थिति सुनिश्चित की है। रेड्डी ने बताया कि हाल की हत्याओं में सभी अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है और उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। विभिन्न न्यायालयों से पहले मामले चल रहे हैं। फ्ख्रडद्भह्र ·र्ष्ठैं ब्ैंख्य्द्बष्ठ ·र्ष्ठैं ·र्ैंय्द्यह्लय् फ्ख्रद्म द्धय्यथ्त्रहालांकि शेट्टर ने कानून-व्यवस्था की स्थिति गंभीर होने का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य में चेन झपटमारी की घटनाएं बढने के साथ ही अपराधी अब वकीलों और वरिष्ठ पुलिसकर्मियों पर हमला कर रहे हैं। यह दर्शाता है कि राज्य मंे कांग्रेस शासन के दौरान कानून और व्यवस्था की स्थिति किस स्तर तक गिर चुकी है। केजे जार्ज ने जब इस पर आपत्ति जताई तब भाजपा सदस्यों ने अपनी जगह ख़डे होकर नारेबाजी शुरु कर दी और शेट्टर को बिना टोकटाक के बोलने देने की अपील की। हालांकि दोनों पक्षों के बीच तीखी बहसबाजी होने के बाद स्पीकर ने सदन की कार्यवाही लंच तक के लिए स्थगित कर दी।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

बिल गेट्स को प्रतिष्ठित 'केआईएसएस मानवतावादी पुरस्कार' 2023 मिला बिल गेट्स को प्रतिष्ठित 'केआईएसएस मानवतावादी पुरस्कार' 2023 मिला
आभार प्रदर्शन भाषण में बिल गेट्स ने मान्यता के लिए आभार व्यक्त किया
केरल में इतनी सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी कांग्रेस!
हिप्र: 6 कांग्रेस विधायक 'अज्ञात स्थान' से शिमला लौटे, 15 भाजपा विधायक निलंबित
पाक समर्थक नारे का आरोप: सिद्दरामैया ने कहा- सच पाए जाने पर होगी कड़ी कार्रवाई
राज्यसभा चुनाव में क्रॉस वोटिंग करने वाले 6 कांग्रेस विधायक 'अज्ञात स्थान' पर गए!
प्रधानमंत्री ने नई परियोजनाओं का उद्घाटन किया, तमिलनाडु में नए इसरो लॉन्च कॉम्प्लेक्स की आधारशिला रखी
समुद्र: रहस्य की अद्भुत दुनिया