सोनाक्षी बोलीं- अगर आप मुझे सही रोल और सही निर्देशक दें तो मैं ...

उन्होंने कहा कि मैं बस ऐसे किरदार की तलाश में हूं, जो वास्तव में मुझे चुनौती दे और ...

सोनाक्षी बोलीं- अगर आप मुझे सही रोल और सही निर्देशक दें तो मैं ...

Photo: sonakshisinhaofficial FB page

मुंबई/दक्षिण भारत। अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा ने कहा कि उन्होंने लगभग एक दशक पहले अपने करियर की दिशा बदलने का फैसला किया था, ताकि उन भूमिकाओं पर ध्यान केंद्रित कर सकें, जो उनके लिए चुनौतीपूर्ण थीं। यही वजह है कि उन्होंने 'दहाड़' और अब 'हीरामंडी: द डायमंड बाजार' जैसे प्रोजेक्ट पर काम किया।

उन्होंने रीमा कागती की समीक्षकों द्वारा सराही गई 'दहाड़' में एक छोटे शहर की पुलिसकर्मी की भूमिका निभाई। संजय लीला भंसाली की विभाजन-पूर्व युग के लाहौर-सेट की 'हीरामंडी' में फरीदन के रूप में भूमिका के लिए प्रशंसा की जा रही है।

अभिनेत्री ने कहा कि आठ भाग वाली नेटफ्लिक्स सीरीज में मां-बेटी रेहाना और फरीदन की दोहरी भूमिकाएं निभाना आसान नहीं था, लेकिन अपनी क्षमताओं पर भंसाली के भरोसे की बदौलत इसमें सफल रहीं। भंसाली ने इससे पहले सोनाक्षी की साल 2012 में आई फिल्म 'राउडी राठौड़' का निर्माण किया था।

एक इंटरव्यू में सोनाक्षी ने कहा कि अगर आप मुझे सही रोल और सही निर्देशक दें तो मैं जादू कर सकती हूं।

अभिनेत्री पूर्व सहयोगियों कागती, विक्रमादित्य मोटवाने ('लुटेरा') और 'अकीरा' के निर्देशक एआर मुरुगादॉस को भी श्रेय देती हैं।

उन्होंने कहा कि मैं बस ऐसे किरदार की तलाश में हूं, जो वास्तव में मुझे चुनौती दे और मुझे मेरी क्षमता तक पहुंचने में मदद करें। एक बार जब मैंने उस तरह की भूमिकाएं करने के लिए अपना रास्ता बदल लिया, जो वास्तव में मेरे लिए चुनौतीपूर्ण थीं, तो मैं एक बेहतर अभिनेत्री बन गई। उन सभी अनुभवों ने मुझे वहां पहुंचाया है, जहां मैं आज हूं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है' 'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
राजभाषा के प्रयोग-प्रसार एवं कार्यान्वयन से संबंधित उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी लगाई गई
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.
मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन कर रहा भारत, कांग्रेस को हो रही ईर्ष्या: भाजपा