तमिलनाडु में मेगा टीकाकरण अभियान के लिए लोगों का कम रुझान

तमिलनाडु में मेगा टीकाकरण अभियान के लिए लोगों का कम रुझान

कोरोना के खिलाफ टीकाकरण को बढ़ावा देने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा कई जागरूकता अभियान के बावजूद मेगा टीकाकरण अभियान में कम लोग आए


चेन्नई/दक्षिण भारत। तमिलनाडु में रविवार को 37वें मेगा टीकाकरण अभियान के तहत 50,000 जगहों पर टीके लगाए गए। स्वास्थ्य मंत्री सुब्रमण्यम ने टी नगर में अभियान का निरीक्षण किया।

कोरोना के खिलाफ टीकाकरण को बढ़ावा देने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा कई जागरूकता अभियान के बावजूद मेगा टीकाकरण अभियान में कम लोग आए।

पिछले कुछ दिनों से कुछ जिलों में मामलों में मामूली वृद्धि देखी जा रही है। खासकर चेन्नई में फिर से 100 का आंकड़ा पार करने के बाद संख्या बढ़ रही है।

37वें मेगा टीकाकरण अभियान में दोपहर एक बजे तक कुल 3.59 लाख टीकों की खुराक दी गई। इसमें से राज्य में कम से कम 2.65 लाख टीकों की एहतियाती बूस्टर खुराक दी गई।

तमिलनाडु में 18 वर्ष से अधिक आयु के 96 प्रतिशत लोगों को कोविड-19 टीकों की पहली खुराक का टीका लगाया गया है और 91.10 प्रतिशत ने दोनों खुराक ली हैं। छत्तीस मेगा टीकाकरण शिविरों में अब तक 5.34 करोड़ टीकों की खुराक दी जा चुकी है।

एहतियाती बूस्टर खुराक टीकाकरण कम रहता है। राज्य में लक्षित लाभार्थियों में से केवल 19 प्रतिशत का ही टीकाकरण किया गया है। स्वास्थ्य विभाग राज्यभर में मुफ्त एहतियाती बूस्टर खुराक को बढ़ावा देने के लिए मेगा टीकाकरण अभियान चला रहा है। हालांकि, इसके प्रति लोगों का रुझान कम रहा है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 30 सितंबर से पहले केवल एक मेगा टीकाकरण अभियान बचा है। हम 25 सितंबर के मेगा टीकाकरण अभियान में बिना टीकाकरण वाले लोगों से टीका लगवाने का आग्रह करते हैं, जो संभवतः अंतिम मेगा टीकाकरण अभियान होगा।

तमिलनाडु के सभी सरकारी अस्पताल विभिन्न आयु समूहों के लिए आवश्यक टीकाकरण को लेकर विज्ञापन प्रदर्शित करेंगे।

मंत्री ने कहा, सरकारी अस्पताल हर बुधवार को टीकाकरण कार्यक्रम के अनुसार सभी गर्भवती महिलाओं और 16 साल तक के बच्चों को विभिन्न बीमारियों के लिए टीकाकरण करेंगे। सभी सरकारी स्कूल प्रत्येक गुरुवार को छात्रों को टीके लगाएंगे।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा