जयललिता की मौत मामले में शशिकला को भेजा गया सम्मन

जयललिता की मौत मामले में शशिकला को भेजा गया सम्मन

चेन्नई। पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की मौत से जु़डे रहस्यों को सामने लाने और इस मामले की जांच करने के लिए राज्य सरकार द्वारा गठित न्यायाधीश ए अरमुगास्वामी की अगुवाई वाले आयोग ने शुक्रवार को आय से अधिक संपत्ति मामले में फिलहाल बेंगलूरु के परपन्ना अग्रहारम जेल में बंद वीके शशिकला, अपोलो अस्पताल के संस्थापक और चेयरमैन डॉ प्रताप सी रेड्डी, इस अस्पताल की उपाध्यक्ष प्रीता रेड्डी को सम्मन जारी किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार न्यायाधीश ए अरमुगास्वामी ने इस सम्मन को सीधे परपन्ना अग्रहारम जेल भेजा है। यह सम्मन दिनाकरण समर्थक और अयोग्य घोषित किए जा चुके पी वेट्रिवेल द्वारा पिछले वर्ष अस्पताल में जयललिता के भर्ती रहने के दौरान का कथित वीडियो जारी करने के दो दिनों बाद जारी किया गया है। इस जांच आयोग द्वारा बुधवार को राज्य की पूर्व मुख्य सचिव और सरकार की सलाहकार रह चुकी शीला बालकृष्णन से भी पूछताछ की गई थी। शीला बालकृष्णन आयोग से सम्मन मिलने के बाद लगभग तीन घंटे तक उनसे पूछताछ की गई।उल्लेखनीय है कि हाल ही में अपोलो अस्पताल के चेयरमैन प्रताप सी रेड्डी ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि पिछले वर्ष २२ सितम्बर को जब पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता को अस्पताल लाया गया था तब उनकी स्थिति काफी गंभीर थी हालांकि अपने आधिकारिक बुलेटिन में अस्पताल ने इसका जिक्र नहीं किया था क्योंकि अस्पताल प्रबंधन को इसके लिए रोका गया था। अस्पताल प्रबंधन से कहा गया था कि यदि जयललिता के स्वास्थ्य की वास्तविक जानकारी सार्वजनिक की जाती है तो कानून व्यवस्था से संबंधित समस्याएं पैदा हो सकती है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List