जमातियों ने बीमारी छिपाई और कोरोना संक्रमण फैलाया, जरूर की जाएगी कार्रवाई: योगी

जमातियों ने बीमारी छिपाई और कोरोना संक्रमण फैलाया, जरूर की जाएगी कार्रवाई: योगी

लखनऊ/दक्षिण भारत। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक टीवी चैनल को दिए साक्षात्कार में कहा कि तबलीगी जमात के सदस्यों ने कोरोना संक्रमण को छिपाया। उन्होंने इसे जानबूझकर किया गया कृत्य कहते हुए अक्षम्य अपराध बताया। योगी ने जमातियों के रवैए की आलोचना करते हुए कहा कि यदि उन्होंने बीमारी को छिपाया नहीं होता तो संक्रमण के मामले कम होते। इसके साथ ही उन्होंने स्पष्ट कर दिया कि ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

योगी ने जमातियों के बारे में कहा कि यह स्वीकार्य नहीं है कि जगह-जगह बीमारी फैलाएं। उन्होंने कहा कि यह कहने में संकोच नहीं कि जमातियों के इस रवैए के कारण संक्रमण में तेजी आई। उन्होंने कहा कि जमातियों ने बीमारी को छिपाया है।

योगी ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 1,600 एक्टिव केस हैं और इनमें 1,000 से ज्यादा संख्या उन लोगों की है जो तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। योगी ने महामारी में जमातियों के रवैए के बारे में कहा कि अगर ये समय पर सतर्क हो जाते तो प्रशासन को सूचना देनी चाहिए थी। इसके बजाय उन्होंने बीमारी को छिपाया, बयानबाजी करते रहे और अंधविश्वास फैलाया।

इसलिए तेजी से फैला संक्रमण
योगी ने कहा कि इसके बाद संक्रमण तेजी से फैला और बड़ी तादाद में लोग संक्रमित हो गए। उन्होंने कहा कि जानबूझकर जिस तरह के कृत्य किए, वह अक्षम्य अपराध है। योगी ने कहा कि उप्र में 3,000 से ज्यादा तादाद में जमातियों ने कई जगहों पर संक्रमण फैलाया। पुलिस को भी इनकी वजह से मशक्कत करनी पड़ी और उन्हें क्वारंटाइन किया गया।

योगी ने बताया कि फिर जमातियों को अस्पताल पहुंचाया तो वहां कोरोना संक्रमण फैलाया। अगर ये लोग सरकार की अपीलों पर ध्यान देते तो स्थिति ऐसी नहीं होती। सीएम ने जमातियों द्वारा बीमारी छिपाने को अशोभनीय काम बताते हुए कहा कि इनके खिलाफ जरूर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने निजामुद्दीन मरकज और तबलीगी जमात पर संक्रमण छिपाने का आरोप लगाते हुए कहा कि जो व्यक्ति पॉजिटिव महसूस कर रहा हो, उसे स्वयं सामने आकर सूचित करना चाहिए।

देश के गांव-घरों तक फैला दिया कोरोना संक्रमण
योगी ने जमातियों की गतिविधियों के बारे में कहा कि इनमें से लोग विदेश से आए और टूरिस्ट वीजा लेकर घूमने लगे। उन्होंने सामान्य लोगों के बारे में कहा कि वे सोचते हैं कि अगर कोई पर्यटक है तो ठीक ही होगा, लेकिन देश के गांवों और घरों तक संक्रमण फैलाना ठीक बात नहीं थी।

सरकार की सतर्कता से स्थिति काबू में
योगी ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की सतर्कता के कारण स्थिति काबू में कर ली गई, अन्यथा इन लोगों ने तो तबाही मचा दी होती और यहां हालात अमेरिका और यूरोप से भी बदतर होते। योगी ने जमातियों के बारे में कहा कि पूरे देश में जिन राज्यों में कोरोना के मामले बड़े पैमाने पर सामने आए, वहां इनकी भूमिका रही है।

अगर अपराध किया तो कानूनी कार्रवाई
योगी ने कहा कि अव्यवस्था और अराजकता फैलाने की छूट किसी को नहीं दी जाएगी। अगर अपराध किया है तो कानून के अनुसार कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने मिलजुलकर कोरोना संक्रमण की शृंखला तोड़ने का आह्वान करते हुए देशवासियों की एकता को बहुत बड़ी ताकत बताया।

सबको बेहतर स्वास्थ्य सुविधा
योगी ने सोशल डिस्टेंसिंग के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि गरीबों के कल्याण के लिए योजनाएं बिना किसी भेदभाव के जारी हैं। चिकित्साकर्मियों पर हमलों की घटनाओं पर उन्होंने कहा कि किसी को भी संक्रमण फैलाने की छूट नहीं दी जाएगी। ऐसे प्रयास किए जा रहे हैं कि हर व्यक्ति को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्राप्त हो।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News