राहत की खबर: जनऔषधि केंद्रों में वॉट्सएप, ईमेल से ऑर्डर पर मिलेंगी दवाएं

राहत की खबर: जनऔषधि केंद्रों में वॉट्सएप, ईमेल से ऑर्डर पर मिलेंगी दवाएं

सांकेतिक चित्र

नई दिल्ली/भाषा। सरकार ने मंगलवार को कहा कि लॉकडाउन के दौरान विभिन्न जनऔषधि केंद्र मरीजों से वॉट्सएप और ईमेल के जरिए दवाओं के ऑर्डर स्वीकार कर रहे हैं, ताकि वे आसानी से दवा खरीद सकें।

रसायन और उर्वरक मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इस समय देश के 726 जिलों में 6,300 से अधिक प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि केंद्र (पीएमबीजेके) कार्य कर रहे हैं।

रसायन एवं उर्वरक मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने कहा, ‘यह खुशी की बात है कि कई पीएमबीजेके जरूरतमंदों तक आवश्यक दवाएं पहुंचाने के लिए आधुनिक संचार साधनों का उपयोग कर रहे हैं, जिनमें वॉट्सएप जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म शामिल हैं।’

बयान में कहा गया कि अप्रैल 2020 में पूरे देश में लगभग 52 करोड़ रुपए की दवाओं की आपूर्ति की गई। इसके साथ ही दवाइयों की डिलीवरी के लिए इंडिया पोस्ट के साथ समझौता भी किया गया है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News